मथुरा

श्रद्धालुओं पर भारी पढ़ रही ई रिक्शा वालों की लापरवाही

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

मथुरा/गोवर्धन :  कस्बा गोवर्धन में यूं तो एनजीटी के आदेश बाद ई-रिक्शा ऊपर रोक लगा दी गई थी लेकिन कुछ स्थानीय नेताओं ओर ई रिक्शा चालकों के शुभचिंतकों के हस्तक्षेप के बाद गोवर्धन कस्बे में ई रिक्शा का संचालन प्रारंभ हो गया लेकिन शायद उन शुभचिंतकों को भी नही पता होगा कि जिनकी वो पैरवी कर रहे हैं वो अपनी लापरवाही से अपने शुभचिंतकों को भी शर्मिंदा करवाएंगे।ओर बाहर से आने वाले श्रद्धालु यहाँ के ई रिक्शा चालकों को कोसते हुए बापिस जाएंगे। मामला गोवर्धन के हाथी दरवाजा का है जहां श्रद्धालुओं को लेकर जा रहे रिक्शा चालक ने लापरवाही बरतते हुए और श्रद्धालुओं से अभद्र व्यवहार करते हुए हाथी दरवाजा स्थित मोड पर इस तरह से ई रिक्शा को मोड़ा कि वह पल भर में पलट गया और 2 महिला श्रद्धालु सहित तीन चार लोगों को चोटें आयी हैं। इतना ही नहीं ई-रिक्शा चालक घायल श्रद्धालुओं को सड़क पर ही पड़ा छोड़कर ई-रिक्शा को भगा ले गया श्रद्धालुओं ने बताया कि उन्होंने पूरे पैसे भी दिए और सवारी भी ज्यादा नहीं थी लेकिन फिर भी ई रिक्शा चालक अदा से गाड़ी चला रहा था और उनसे अभद्र भाषा में बात कर रहा था उससे प्रतीत हो रहा था कि वह शायद शराब पीते हुए था रिक्शा चालक की लापरवाही के लिए दिल्ली से आए हुए श्रद्धालु परिवार ई रिक्शा चालक के साथ-साथ स्थानीय पुलिस प्रशासन को भी कोसते नजर आए। देखना होगा कि आए दिन ई रिक्शा चालकों की वजह से गोवर्धन में जो जाम की स्थिति बनी रहती है तथा आए दिन श्रद्धालुओं के साथ जो घटनाएं होती हैं क्या उनमें कमी के लिए शासन प्रशासन पुलिस कोई कदम उठाकर गोवर्धन तीर्थ स्थल को शर्मिंदगी से बचा पाएगा या ऐसे ही धार्मिक स्थल में आने वाले श्रद्धालु स्थानीय व्यवस्था को कोसते हुए वापस जाएंगे

Related Articles

Back to top button
Close