आगरा

बढ़ती महंगाई व रोजगार के खिलाफ सपाईयों की साइकिल यात्रा

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा/फतेहाबाद : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर 12 जनवरी को सपाइयों ने समाजवादी साइकिल यात्रा निकाली। लम्बी इस यात्रा में एनपीआर नहीं, रोजगार चाहिए, सस्ती शिक्षा हो और छात्रों पर अत्याचार बंद करो के नारे लगाते कई साइकिल सवार शामिल थे। साइकिल यात्रा सुबह दस बजे आगरा फतेहाबाद से चली। इस मौके पर सपा युवा नेता अजय वर्मा ने कहा कि पूर्व सीएम अखिलेश यादव ही अकेले ऐसे नेता हैं जो भाजपा की साम्प्रदायिक नीतियों का सामना कर सकते है। उन्होंने कहा कि नौजवान ही आगे 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनाएंगे। सपा जिला सचिव गुड्डू दयाल वर्मा ने साइकिल यात्रा पर बधाई देते हुए कहा कि पिछले दिनों भाजपा की केंद्र सरकार ने जो फैसले किए हैं उससे देश भर में आक्रोश है। सपा युवा नेता अजय वर्मा ने बताया कि साइकिल यात्रा के माध्यम से हमने जमीनी स्तर पर समस्याओं को करीब से देखा और अब लोकसभा चुनाव में तो हमारा दायित्व पार्टी को जिताना है, लेकिन उससे बड़ा दायित्व है उन समस्याओं को जड़ से खत्म करना। मैं जनता से कहना चाहूंगा कि सरकारी योजनाओं के बारे में हर संभव जानकारी रखे। आगरा से लखनऊ तक साइकिल यात्रा एक प्रकार का तप था, जो युवाओं ने किया है, उसका परिणाम जरूर मिलेगा। आप सोच रहे होंगे कि ये तो सपाईयों का प्रचार-प्रसार था, जो निपट गया, जबकि सच पूछिए तो यह साइकिल रैली, रैली नहीं, बल्कि जनता का फीडबैक जुटाने का बड़ा साधन बनी हैं। वहीं साइकिल यात्रा में प्रमुख रूप से अजय वर्मा, बृजेश निषाद, राहुल वर्मा, विजय वर्मा, सोनू वर्मा, अंशुल चक, संजय वर्मा, गोविंद निषाद, संतोष निषाद, करन वर्मा सहित साईकिल यात्रा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close