आगरा

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने किया पुल का भूमि पूजन

90 करोड़ की लागत से बनेगा पिनाहट के उसेथ घाट पर चंबल पुल

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा/पिनाहट : चंबल नदी स्थित मध्यप्रदेश सीमा में उसेथ घाट पर मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश को जोड़ने के लिए बनने जा रहे 700 मीटर लंबे और 12 मीटर चौड़े पुल का भूमि पूजन रविवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने विधिवत मंत्रोच्चारण के बीच पूजा पाठ कर किया। इस अवसर पर पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा अरिदमन सिंह व अंबाह विधायक कमलेश जाटव तथा भाजपा के मुरैना जिलाध्यक्ष योगेश पाल गुप्ता सहित अनेक लोग मौजूद रहे। इस मौके पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के उसेद और पिनाहट के बीच आवागमन में बाधा का अवरोध अब जल्द समाप्त होने को है। इस पक्के पुल निर्माण के बाद दोनों प्रांतों के लोगों के लिए आवागमन सुगम होगा। इसके साथ ही एक दूसरे से मिलना जुलना, व्यापार करना भी सुविधाजनक होगा। इस पुल के निर्माण मे अब तक अनेक कारणो से विलंब हुआ। लेकिन अब शुभ घड़ी आ गई है। दो वर्ष पूर्व भी काम शुरु कराया गया था। लेकिन सरकार बदलने से बड़ा व्यवधान आया और अब फिर उन सब बाधाओं को दूर करते हुए यह कार्य प्रारंभ किया गया है। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के द्वारा 32 वर्ष पूर्व किए गए शिलान्यास पर चुटकी लेते हुए कहा कि देश का प्रधानमंत्री शिलान्यास करें और शिलान्यास के बाद भी वह कार्य न हो पाये यह आश्चर्यजनक बात है बचपन की स्मृतियों का जिक्र करते हुए कहा कि जब मैं अपने परिजनों के साथ पिनाहट बाजार जाता था। तब से ही पिनाहट के इस चंबल घाट पर पुल की जरूरत महसूस होती आ रही है। साथ ही कहा कि इस तरफ से हम प्रयास कर रहे थे तो उधर पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा अरिदमन सिंह प्रयास कर रहे थे जिसके परिणाम स्वरूप इस पुल के भूमि पूजन का कार्य आज प्रारंभ हुआ हैं। श्री तोमर ने विलंब के नुकसान बताते हुए कहा कि जहां 2012 में इस पुल के निर्माण की मंजूरी के समय लागत 28 करोड़ थी वहीं विभिन्न अड़चनों के कारण आज इसकी लागत 90 करोड़ हो गई हैं लेकिन अब यह अगले तीन-चार वर्षों में पूर्ण रूप से तैयार हो जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्नत खेती का लाभ छोटे किसानों को मिलेगा शासन की अधिकांश योजनाएं छोटे किसानों तक नहीं पहुंच पाती और ऐसी छोटे किसानों की संख्या 86 प्रतिशत से भी अधिक है हम इन सभी किसानों को नवीन तकनीकी से जोड़ने गांव-गांव में प्रोसेसिंग पैकिंग और कृषि उत्पाद संगठन के माध्यम से जागरूक करने का काम करेंगे। सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व मंत्री अरिदमन सिंह ने कहा पक्का पूल बनने से दोनों प्रदेश में विकास के आयाम स्थापित होंगे। विधायक कमलेश जाटव ने देते हुए जनता द्वारा विजई बनाए जाने पर आभार भी ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन भाजपा के वरिष्ठ नेता गजेंद्र सिंह तोमर ने और आभार ग्रामीण मंडल के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह तोमर कक्का ने किया। मंच पर पूर्व मंत्री अरिदमन सिंह ,जिला अध्यक्ष योगेश पाल गुप्ता पूर्व मंत्री मुंशीलाल विधायक कमलेश जाटव मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close