आगरा

किसान आंदोलन को लेकर दिन भर रही रेलवे पुलिस अलर्ट

स्टेशनों से लेकर ट्रैकों तक की गई सुरक्षा बलों द्वारा निगरानी

3000
r 1000
WhatsApp Image 2020-12-31 at 6.53.15 PM
1000

 

आगरा : नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों द्वारा चार घंटे रेल मार्ग रोकने का एलान किया गया था। जिसको लेकर रेलवे विभाग ने रेल सुरक्षा बलों को अलर्ट किया गया। आगरा मंडल में गुरुवार सुबह से ही जीआरपी और आरपीएफ की टीमें स्टेशनों से लेकर ट्रैकों तक निगरानी कर रही है। इसके लिए पुलिस की मदद भी ली जा रही है। रेल रोको एलान का असर आगरा में दिखाई नहीं दे रहा है। गुरुवार सुबह से ही रेलवे स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ ने कन्फर्म टिकट वाले यात्रियों को ही प्रवेश करने दिया। वेंडरों को भी स्टेशन के अंदर नहीं घुसने दिया। जिले के कई किसान नेताओं पर पुलिस की नजर है। आगरा-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर आरपीएफ के जवान बिल्लोचपुरा, राजा मंडी से आगरा कैंट स्टेशन तक तैनात है। दो बजे दोपहर तक किसी ट्रैक पर रेल नहीं रोकी गई। रेलवे अधिकारियों ने भी सुरक्षा का जायजा लिया। इधर, किसान नेता सौरभ चौधरी, चौधरी रामवीर सिंह, सत्यवीर चौधरी धर्मवीर चौधरी को घर पर पुलिस ने नजर बंद कर दिया।

आगरा मंडल के प्रभारी पुलिस अधीक्षक रेलवे मोहम्मद मुश्ताक ने बताया कि स्टेशनों पर गुरुवार सुबह से ही आरपीएफ व जीआरपी के जवान तैनात है। आरपीएफ ने भी अतिरिक्त ड्यूटी लगाई है। स्टेशनों पर कन्फर्म टिकट लेकर आने वालों को ही प्रवेश दिया जा रहा है। वहीं आगरा मंडल के वाणिज्य प्रबंधक एसके श्रीवास्तव ने बताया कि ट्रैक मेंटिनेंस करने वाले कर्मचारियों को भी सतर्क रहने को कहा गया है। आरपीएफ के जवान भी तैनात है। किसी भी तरह की आपात स्थिति के बारे में वह कंट्रोल रूम को सूचना देंगे। साथ ही स्थानीय पुलिस से सहयोग लिया गया है।

Related Articles

Back to top button
Close