आगरा

राटौटी के सरकारी स्कूल में लगाई जिले की पहली शिक्षा चौपाल

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा/पिनाहट : जिले की पहली शिक्षा चौपाल का आयोजन राटौटी स्थित सरकारी विद्यालय में आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजबहादुर शर्मा व मंच संचालन नारायण हरी यादव ने किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में यूनाइटेड टीचर्स एसोशिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राठौर रहे। इस मौके पर यूटा के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राठौर ने चौपाल को सम्बोधित करते हुए कहा कि विद्यालय खोलने को लेकर शासन के निर्णय का स्वागत किया। उन्होंने कहा अध्यापक निर्भीक होकर शिक्षण कार्य करें। कोई भी समस्या होने पर यूटा के पदाधिकारियों से मदद लें। साथ ही उन्होंने एआरपी लोगो की अधिकारी गीरी पर भी तंज कसा उन्होंने कहा कि शासन ने जो काम सौंपा है वही करें यदि किसी भी अध्यापक का उत्पीड़न किया तो यूटा ऐसे लोगों को सबक सिखाने का कार्य करेगा। साथ ही कम्पोजिट ग्रांट को अनुमति लेकर खर्च करने पर आपत्ति जताई। इसे शिक्षक अपनी आवश्यकता अनुसार खर्च करें। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए तहसीलदार बाह हेमचंद्र शर्मा ने कहा कि शिक्षक को छात्रों को पूरी लगन व निष्ठा से पढ़ाना चाहिए। पौराणिक उदाहरण से भी उन्होंने शिक्षकों को उनके कर्तव्यों का पथ पढ़ाया। ब्लॉक के खंड शिक्षाधिकारी ओमप्रकाश अकेला ने प्रेरणा लक्ष्यों को हासिल करने के तरीके बताए।उन्होंने कोरोना काल के बाद खुले विद्यालयों में सुचारू पठन पाठन पर जोर दिया। इनके अलावा कार्यक्रम को वी पी बघेल, जिलाध्यक्ष केशव दीक्षित, यादवेंद्र शर्मा, के के शर्मा, अहिवरण सिंह परिहार, ज्ञान प्रकाश परिहार, राजबहादुर शर्मा,सुरेंद्र गुर्जर, सरताज अहमद आदि ने संबोधित किया। वहीं यूटा के जिलाध्यक्ष ने ब्लॉक इकाई पिनाहट का भी पुनर्गठन किया। जिसमें सुरेंद्र गुर्जर को संरक्षक विकास चौधरी को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, रामहरी गुर्जर को मंत्री, पंकज शर्मा को संयुक्त मंत्री, नीलम राजपूत को उपाध्यक्ष, रमेश भदौरिया को संगठन मंत्री प्रदीप पाराशर को प्रचार मंत्री बनाया गया हैं। शिक्षा चौपाल के इस कार्यक्रम में शिक्षकों का हुजूम उमड़ पड़ा। प्रमुख रूप से सुनील मिश्रा, महेंद्र परिहार, हरिशंकर आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close