आगरा

सेना भर्ती में सेंध लगाने वाले 10 अभ्यर्थियों सहित 15 गिरफ्तार

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा : आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज में चल रही सेना भर्ती रैली में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर भर्ती होने आए 10 युवकों को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। इनमें से आठ ने शारीरिक परीक्षा दे दी थी, जबकि एक का फिजिकल होना बाकी था। वहीं एक का पंजीकरण नहीं हो पाया। इसी के साथ पुलिस ने कोविड-19 की फर्जी रिपोर्ट बनाने वाले पांच आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज में सोमवार से सेना भर्ती शुरू हुई। हर दिन अलग-अलग जिलों के अभ्यर्थियों को बुलाया गया है। आरोपी अभ्यर्थियों ने कासगंज की भर्ती में शामिल होने का प्रयास किया। यह लोग फर्जी निवास प्रमाण पत्र बनवा कर लाए थे। इसके बाद फर्जी कोविड-19 रिपोर्ट भी बनवा रहे थे। पुलिस को आरोपियों के बारे में गोपनीय सूचना मिली थी। इस आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में लव कुश, प्रदीप, कुलदीप, सनी, गौरव, विनीत, रोहित, सचिन, हितेश, जयप्रकाश हैं। यह सभी आरोपी भर्ती देखने आए थे। बुलंदशहर, गौतम बुद्ध नगर और हापुड़ के रहने वाले हैं। वहीं पुलिस ने कोविड-19 की फर्जी रिपोर्ट बनाने वाले शिव कुमार निवासी फर्रुखाबाद, सोनू खान, नवीन, फिरोज और मुनीर निवासी गांव अरसेना, थाना सिकंदरा को भी गिरफ्तार किया है। यह भर्ती स्थल के पास ही लैपटॉप और प्रिंटर की मदद से कोविड रिपोर्ट तैयार कर रहे थे। पुरानी रिपोर्ट को स्कैन करके नाम और पता बदलकर असली जैसा बना कर दे रहे थे। इससे अभ्यर्थियों को प्रवेश मिल रहा था।

Related Articles

Back to top button
Close