मथुरा

मंडी सचिव की तानाशाही से आम लोगों पर हो रही एफ आई आर दर्ज

बीजेपी विधायकों को मंडी सचिव सुनील शर्मा द्वारा मिल रहा संरक्षण

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

मथुरा : मंडी समिति में पुरानी दुकाने सन 1993 में आवंटन की गई थी उन दुकानो को नीचा पड़ जाने के कारण कुछ दुकानदारों ने अपनी दुकाने मंडी सचिव सुनील शर्मा द्वारा ऊंची कर ली मंडी समिति की जो दुकान नवीन मंडी समिति द्वारा बोली के बाद कुछ दुकानदारों ने अपनी-अपनी दुकानों की बरामदो पर कब्जा कर लिया और मंडी सचिव सुनील शर्मा की मिलीभगत पर कुछ दुकानदारों ने दो मंजिला दुकाने बना ली कारण मंडी समिति की दुकान है मंडी नियम के आधार पर दो मंजिला व बेसमेंट नही बनाई ज सकती हैं और न ही मंडी समिति की कोई जगह बगैर नीलामी के किसी को दी नही जा सकती है मंडी समिति में मंडी सचिव सुनील शर्मा व आगरा मंडल के मंडी समिति डीडीए द्वारा मंडी समिति के चेक पोस्ट के पीछे करोड़ों की जमीन को मथुरा पूरन प्रकाश विधायक को साँठ गांठ द्वारा फर्जी आवंटन कर उन्हें सौंप दिया गया जिस पर पूरन प्रकाश विधायक ने अपना निर्माण करना जारी कर दिया था उसके बाद यह मामला मीडिया कर्मियों के नजरों में आया तो उस पर एक्शन दिखाते हुए मथुरा मंडी समिति के सचिव सुनील शर्मा डीडीए आगरा व सिटी मजिस्ट्रेट मथुरा पहुंच गए और उस कार्य को रुकवा दिया गया मगर मंडी समिति के अधिकारियों द्वारा बीजेपी सत्ताधारी पूरन प्रकाश के खिलाफ कोई अभी तक एफ आई आर दर्ज नहीं हुई उसके बाद मंडी चौराहे पर सन 1993की मंडी समिति की क्षतिग्रस्त 6 नंबर दुकान की मरम्मत कर रहे राकेश अग्रवाल पुत्र स्वर्गीय ओमप्रकाश पर मंडी सचिव द्वारा दोगला व्यवहार करते हुए एफ आई आर की कार्यवाही कर दी गई मामला स्पष्ट जाहिर है बीजेपी सत्ताधारी पर मथुरा प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जाती है और आम आदमी पर कार्रवाई कर दी जाती है जबकि मंडी समिति द्वारा आबंटन दुकानों को बरामदे दिए गए थे और बरामदे को मंडी सचिव द्वारा रुपये की मांग करते हुए आम दुकानदार पर एफ आई आर दर्ज कर दी गई और सत्ताधारी बीजेपी विधायक पूरन प्रकाश पर कोई मंडी सचिव द्वारा कार्यवाही नहीं की गई और मंडी सचिव द्वारा मंडी चौराहे पर कई दुकानें दो मंजिला भी दुकानदारों द्वारा बनाई गई है अभी तक उन पर मंडी समिति द्वारा कोई नोटिस जारी ओर एफआईआर भी दर्ज नही की गई है।

Related Articles

Back to top button
Close