आगरा

कृषि बिल विरोध में आयोजित महापंचायत गरजे किसान संगठन

प्रशासन द्वारा किसान नेताओं को नोटिस जारी करने पर जताया आक्रोश

3000
r 1000
WhatsApp Image 2020-12-31 at 6.53.15 PM
1000

 

आगरा : कृषि बिल के विरोध में किसान संगठनों द्वारा आगरा जनपद में लगातार किसानों की महापंचायतों का आयोजन किया जा रहा हैं। इसी क्रम में आज किसान संगठनों की एक महापंचायत गांव बाद के पंचायत घर पर आयोजित की गई। जिसका संचालन रणवीर सिंह तोमर व अध्यक्षता रघुवीर सिंह चाहर ने की। इस पंचायत के माध्यम से किसान संगठनों ने एक स्वर में एलान किया कि सरकार तीनों विधयकों को वापस ले नही तो गंभीर परिणाम भुगतने के लिये तैयार रहे। पंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया दिल्ली आंदोलन में किसान संगठनों के आवाहन पर किसान व किसान नेता हमेशा तैयार रहे। अगर रोड जाम का एलान होगा रोड जाम करेंगे जेल भरो आंदोलन होगा जेल भरेंगे। संगठनों के आवाहन पर किसान किसी कीमत पर पीछे नहीं हटेगा। वहीं पंचायत के दौरान किसान नेता श्याम सिंह चाहर ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार किसानों के आंदोलन को दबाने के लिये जिला प्रशासन के माध्यम से किसान नेताओं को प्रताणित कर रही हैं। कहीं किसान नेताओं को नजर बंद कर और कहीं उपजिलाधिकारी द्वारा लाखों रूपये से प्रतिबंधित करने का कार्य किया जा रहा हैं। जबकि अपने दोषी अधिकारियों को बचाने के लिये किसान उत्पीड़न करने से सरकार गुरेज नही कर रही। उन्होंने एलान किया कि अपनी मांगों को लेकर महामहिम राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार सदर को सौंपेगें। साथ ही मांग करेगें कि जिला प्रशासन द्वारा जारी किये गये नोटिसों को तत्काल प्रभाव में वापस लें। और इनररिंग रोड के घोटाले में दोषी अधिकारियों के खिलाफ कडी से कड़ी कार्यवाही करें ताकि किसानों के मन में देश के प्रति आत्मविश्वास बना रहे। इस मौके पर किसान नेता श्याम सिंह चाहर, बलवीर नेताजी, किशन सिंह चौहान, दुर्गा प्रसाद, रविंद्र सिंह, सोमबीर यादव, मुकेश पाठक, सुरेंद्र पूनिया, रमजान अब्बास, महेश कुमार, बिशंबर सिंह, लाखन सिंह, राजवीर सिंह, बनी सिंह पहलवान, अवधेश सोलंकी, मेहताब सिंह चाहर, रविंद्र सिंह, थान सिंह, मास्टर किशन सिंह, मास्टर हम वीर सिंह, धर्मा फौजदार, अरुण प्रधान, दुर्गेश चाहर, कमल सिंह, चंद्र मोहन शर्मा, अमन चौहान, सुरेंद्र सिंह सहित हजारों की संख्या में किसान मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close