आगरा

खेतों की रखवारी कर रहे ग्रामीणों को दिखा तेंदुआ, दहशत

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा/पिनाहट। चंबल क्षेत्र में जंगली जानवरों का बढते आतंक बढ़ता के चलते ग्रामीणों में दहशत माहौल बना हुआ हैं। खेतों पर फसल रखवाली कर रहे ग्रामीणों ने बीती रात तेंदुआ देखा जिसकी खबर समूचे क्षेत्र में फैलने से हड़कंप मच गया। ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। मिली जानाकरी के अनुसार थाना मंसुखपुर क्षेत्र के अंतर्गत पलोखरा गांव के ग्रामीण किसान वीती रात को अपने खेतों पर पशुओं से फसल रखवाली के लिए गए थे। किसान मान सिंह के कुआं के पास एक विशाल खतरनाक जानवर चीतानुमा दिखा, जिसे देखकर मौजूद किसानों के रोंगटे खड़े हो गए। जानवर को देखकर मौजूद किसान नलकूप की कोठरी में छुप गए, ग्रामीणों ने तेंदुआ जानवर होने की सूचना स्थानीय वन विभाग कर्मियों को दी। तेंदुआ की सूचना पर ग्रामीणों में हड़कंप मच गया दर्जनों की संख्या में ग्रामीण वन विभाग की टीम के साथ चंबल किनारे खेतों पर पहुंचे जहां वन दरोगा ब्रजराज सिंह ने अपनी टीम एवं ग्रामीणों के साथ जानवर को खोजने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया कई घंटे तक बीहड़ किनारे कांबिंग की गई, मगर जानवर नहीं मिला, तेंदुआ जानवर की दहसत ग्रामीणों में व्याप्त है। जिसे लेकर वन विभाग की टीम ने रेंजर बाह चंबल सेंचुरी आर के सिंह राठौर ने लाउडस्पीकर से ग्रामीणों को अनाउंसमेंट किया है कि रात के समय खेतों पर अकेले ना जाएं, चंबल के बीहड़ में ना जाने की सलाह दी गई, ग्रामीणों को सुरक्षा के साथ रहने के लिए कहा गया है। खेतों पर झुंड में जाएं ताकि जानवर हमला न कर सके। वहीं ग्रामीणों ने वन विभाग से तेंदुआ को पकड़ने की मांग की गई है। इसी मामले में वन विभाग चंबल सेंचुरी रेंजर बाह आर के सिंह राठौर ने बताया चंबल किनारे बसे गांव के कई ग्रामीणों द्वारा तेंदुआ जानवर की सूचना मिली है, टीम गठित कर सुरक्षा की दृष्टि से लोगों को जागरुक किया जा रहा है। तेंदुआ होने की अभी पुष्टि स्पष्ट नहीं हो पाई है निगरानी की जा रही है। लोगों को चंबल क्षेत्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

Related Articles

Back to top button
Close