आगरा

अन्नपूर्णा वीक में पिंक बेल्ट मिशन ने किया घरेलू महिलाओं का सम्मान

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा : दान नहीं सम्मान शोभा बनी शान इन पंक्तियों को चरितार्थ करते हुए पिंक बैल्ट मिशन द्वारा गरीब बस्ती की महिलाओं का सम्मान किया गया उन्हें पुरस्कृत करते हुए जो हकीकत में घर की अन्नपूर्णा कहलाती हैं क्योंकि वह अपने प्यार और मेहनत से अपने पूरे परिवार का पेट भर्ती हैं और वह सम्मान व प्यार पाने की हकदार हैं। गरीब महिलाओं के उत्थान स्वाभिमान सुरक्षा व सम्मान के लिए पिंक बेल्ट हमेशा तत्पर रहा है। मिशन का मुख्य उद्देश्य गरीब महिलाओं तक आर्थिक सहायता पहुंचाना, सम्मान दिलाना, चेहरे पर वो खुशी लाना है। जिससे वे अभी तक वंचित रहे हैं। इसी उद्देश्य को पूरा करने हेतु पिंक बैल्ट मिशन मिशन द्वारा आयोजित अन्नपूर्णा वीक का तीसरा दिन भी गरीब बस्ती की महिलाओं के बीच पूरे जोश व उत्साह से मनाया गया। संस्था द्वारा 25 हजार के कैश प्राइज,सुंदर साड़ियां व क्रोकरी सेट पाकर महिलाएं बहुत ही खुश थी। वहीं साथ में कराए गए भंडारे में लगभग 1000 गरीब बच्चों व महिलाओं मैं गरमा गरम भोजन का लुत्फ उठाया। संस्था द्वारा राजनगर लोहामंडी में आयोजित प्रतियोगिता में मोहल्ले की महिलाओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। रोटी बेलना, आलू छीलना मेकअप व ढोलक पर गीत चारों प्रतियोगिताओं में महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया नौजवान महिला के साथ साथ 70 वर्षीय बुजुर्ग महिलाएं भी प्रतियोगिता में भाग लेती नजर आईं। जिसमें महिलाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। प्रतियोगिता की शुरुआत बहुत ही जोश और उत्साह के साथ की गयी। प्रतियोगिता के तीसरे दिन राजनगर बस्ती की महिलाएं उमंग से भरपूर थी ।पूरी ऊर्जा व उत्साह के साथ प्रत्येक महिला ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया ।पूरी बेलने ,आलू छीलने में महिलाओं ने जी जान लगा दी ।सभी एक दूसरे को पछाड़कर आगे निकलना चाहती थी ।हंसी ठिठोली के साथ प्रतियोगिता का नजारा देखते ही बन रहा था जहां एक तरफ महिलाएं पूरी लगन के साथ पूरी बेल रही थी ।वही बुजुर्ग महिलाएं भी उनके पीछे छोड़ते हुए अपनी पूरी मेहनत से लगी हुई थी। परिसर में खड़ी हुई महिलाएं एक दूसरे को प्रोत्साहित कर रही थी। वहीं दूसरी तरफ महिलाओं ने ढोलक पर गीत गाकर समा बांध दिया। महिलाओं ने कड़ाके दार ढोलक पर नृत्य भी किया ढोलक प्रतियोगिता में भी हर उम्र की महिला ने भाग लिया। मेकअप की प्रतियोगिता में बहू व नत बहुओं द्वारा अपनी सास का मेकअप किया गया धैर्य से बैठकर सभी सासें अपनी बहुओं से मेकअप करवा रही थी और इसी सोच में थी कि हम प्रथम आ जाएं। उनका कहना था कि जीवन में ऐसा अनुभव पहली बार हुआ है। जब बहू द्वारा मेकअप करवाने का अवसर मिला हो ।आज के समय में कहां, बहू सास का मेकअप करती है। इस प्रतियोगिता में जहां संबंध अच्छे हुए वहीं परस्पर प्रेम भी बढ़ गया ।इसका पूरा श्रेय पिंक बेल्ट मिशन को जाता है। पिंक बेल्ट मिशन की संस्थापिका अपर्णा राजावत व संरक्षिका मानसी चंद्रा के अनुसार नए साल का शुभारंभ शहर के गरीब बस्तियों के लोगों के साथ मिलकर करना चाहते थे। मिशन का मुख्य उद्देश्य अन्नपूर्णा वीक के माध्यम से इन लोगों तक आर्थिक सहायता पहुंचाना ही नहीं बल्कि इन बस्तियों के लोगों के चेहरे पर वो खुशी लाना है। जिससे वह अभी तक वंचित रहे हैं ।ऐसी महिलाएं जिनकी जिंदगी घर के कामकाज में ही सिमट कर रह गई है ।अपनी प्रतिभा को पहचानने व मनोरंजन से कोसों दूर चली गई है ऐसी ही महिलाओं को सम्मान दिलाना है वह भी प्यार और स्नेह के साथ। रोटी बेलने में प्रथम सानिया व द्वितीय मंजू तृतीय प्रीति यह रही वही आलू छीलने में प्रथम मीरा देवी द्वितीय शशि व तृतीय शकुंतला यह रही मेकअप में प्रथम मधु द्वितीय विद्या व तृतीय राखी यह रही ढोलक व गीत में प्रथम मीना देवी द्वितीय रतन देवी व तृतीय आदेश देवी यह महिलाएं रहीं। चारों प्रतियोगिता में विजेता प्रथम आने वाली महिलाओं को 3100 नगद धनराशि द्वितीय विजेताओं को 2100 व तृतीय महिलाओं को 1100 की नगद धनराशि पुरस्कार में दी गई। सभी महिलाओं को रंगीन सुंदर साड़ियां व क्रोकरी सेट बांटे गए। वही कार्यक्रम में आए सभी गरीब लोगों को भंडारे में भोजन करवाया गया। कार्यक्रम में रीनेश मित्तल , पिंक बेल्ट मिशन की ऑपरेशन हेड मनीषा ठाकुर , पायल चौहान, कौशांबी सिंह, नेहा ,डिंपल,करिश्मा ,कंचन सानिया, नीतू, दीप्ति , वैशाली ,चांदनी ,आरती, लक्ष्मी ,टीना ,सपना ,आशा सिंह नरेश कुमार तथा तारा इनोवेशन की टीम उपस्थित रही।

Related Articles

Back to top button
Close