आगरा

कृषि विधेयकों को निरस्त कराने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा : किसानों के सम्मान में उतरी कांग्रेस मैदान में। कांग्रेसियों ने कृषि विधेयकों को निरस्त करने की मांग को लेकर जिला मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। साथ ही राज्यपाल को नामित ज्ञापन एसीएम फिफ्थ वीरेंद्र कुमार मित्तल को सौंपकर कृषि विधेयकों को निरस्त करने की मांग की गई। शहर कांग्रेस कमेटी के बैनर तले कांग्रेसी पदाधिकारी व कार्यकर्ता जिला मुख्यालय पहुंचे। और प्रदर्शन कर भाजपा शासित राज्यों में किसानों को दिल्ली जाने से रोकने की निंदा की। इस दौरान शहर अध्यक्ष देवेंद्र कुमार चिल्लू ने कहा कि तीनों कृषि विधेयक किसान विरोधी हैं। पूरे देश के किसान एकजुट होकर इन विधेयकों का विरोध कर रहे हैं, लेकिन केंद्र व भाजपा की सामंतशाही सरकारों के कानों पर देश के अन्नदाता की आवाज का कोई असर नहीं पड़ रहा है। शांतिपूर्वक व गांधीवादी तरीकों से विधेयकों को वापस लेने के लिए दिल्ली कूच कर रहे किसानों पर भाजपा शासित राज्यों में पुलिस-प्रशासन ने बर्बरतापूर्ण व्यवहार किया, जो लोकतंत्र में सीधे-सीधे स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति का खुला हनन है। कांग्रेसियों ने कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य विधेयक, कृषक सशक्तिकरण व संरक्षण एवं कीमत आश्वासन व कृषि सेवा पर करार विधेयक को अविलंब निरस्त करने, किसानों के हित में डा. एमएस स्वामीनाथन की कृषि सुधार के संबंध में दी गई रिपोर्ट को लागू करने की मांग की। कांग्रेसियों ने राज्यपाल से देश के अन्नदाता किसानों को उद्योगपतियों का गुलाम बनाने से बचाने को तीनों कृषि विधेयकों को अविलंब निरस्त करने की संस्तुति राष्ट्रपति से करने की मांग की। प्रदर्शन में नंदलाल भारती, मोहसिन काजी, अहमद हसन, आइडी श्रीवास्तव, प्रो. शिल्पा दीक्षित, विराग जैन, राघवेंद्र सिंह मीनू, अनुज शिवहरे, अजहर वारसी, बासित अली, अदनान कुरैशी आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close