आगरा

विपक्ष की आवाज को दबा रही तानाशाही सरकार : डॉ अनिल चौधरी

संविधान की रक्षा हेतु कांग्रेसी करेगें मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन

3000
r 1000
WhatsApp Image 2020-12-31 at 6.53.15 PM
1000

 

आगरा : 26 नवम्बर को संविधान रक्षा के लिए कांग्रेस प्रदेश भर के समस्त मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन करने जा रही है। इसी क्रम में आगरा मुख्यालय पर समस्त कांग्रेसी एकत्रित होंगे और मोदी-योगी सरकार के खि़लाफ़ प्रदर्शन करते हुए धरना-प्रदर्शन करेंगे। ऐसे में आगरा प्रशासन के सामने यह कड़ी चुनौती होगी कि वह शासन द्वारा आई कोविड गाइडलाइंस का पालन कराने के लिए क्या हथकंडे अपनाएगी या फिर मुख्यालय में नियम टूटेंगे। 26 नवम्बर को जिला मुख्यालय पर होने वाले धरना प्रदर्शन की जानकारी हरियाली वाटिका पर आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान प्रदेश किसान कांग्रेस के अध्यक्ष व पूर्व विधायक डॉ अनिल चौधरी ने बताते हुए कहा कि भाजपा सरकार में तानाशाही चल रही है। विपक्ष की आवाज को दबाया जा रहा है जिसके कई उदाहरण के रूप में से एक उत्तर प्रदेश अनुसूचित जनजाति कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष आलोक प्रसाद को झूठी कहानी बनाकर षडयंत्र के तहत जेल भिजवाया गया जो लगभग एक माह से जेल में है और किसी भी स्तर पर कोई भी सुनवाई सरकार नहीं कर रही है। यह सरकार देश के चौथे स्तम्भ को भी नहीं छोड़ रही है। हाथरस, सोनभद्र, आजमगढ़, कानपुर, गोरखपुर में अनेकों पत्रकार बंधु पर झूठे राष्ट्र द्रोह के मुकदमे दर्ज कर उनको जेलों में बंद किया गया। साथ ही कहा कि आगरा में शहर कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र कुमार चिल्लू के नेतृत्व में जिला व शहर के सभी कांग्रेस जन, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक, एआईसीसी पीसीसी सदस्य, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई, महिला कांग्रेस सहित सभी फ्रंटल संगठनों के पदाधिकारी 26 नवम्बर को जिला मुख्यालय कलेक्ट्री आगरा पर पर धरना प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान जिलाधिकारी को संविधान की प्रति भेंट कर डा. बी आर आंबेडकर जी के बनाए गए संविधान की रक्षा करने की मांग करेंगे। इस दौरान पत्रकार वार्ता में भारत भूषण, अरविंद दौनेरिया, कपिल गौतम, कपूर चंद रावत, आई डी श्रीवास्तव, हरीश शर्मा एडवोकेट, सोनू अग्रवाल, रेखा अग्रवाल, अशोक सोनी, राघवेंद्र सिंह मीनू, राकेश त्यागी, अजय आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
Close