आगरा

मरीज की मौत पर परिजनों ने अस्पताल में काटा हंगामा, की तोड़-फोड़

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा : थाना जगदीशपुरा क्षेत्र के सेक्टर आठ निवासी का सतेन्द्र दीक्षित की मौत पर परिजनों ने अस्पताल संचालक और डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा काटा और अस्पताल में तोड़-फोड़ की। हंगामें की सूचना पर पहुंची पुलिस मामले को शांत कराने में जुटी। जगदीशपुरा थाना क्षेत्र के सेक्टर आठ निवासी रवि दीक्षित ने बताया कि दो माह पूर्व उनके भाई सतेन्द्र का जीवन ज्योती अस्पताल में दिल का ऑपरेशन हुआ था। जिसके लिए उनसे 2.5 लाख रुपये की रकम वसूली गई थी। दो माह बाद मंगलवार रात को अचानक सतेन्द्र की तबीयत बिगड़ गई। जिसके कारण वह लोग रात को उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे। अस्पताल में सतेन्द्र का चेकअप करे के बाद उन्हें वेंटीलेटर लगाने की बात कहकर अस्पताल की ओर से 15 हजार रुपये की फीस मांगी गई। जब परिजनों ने पैसे देने में असमर्थता जताई तो डॉक्टर ने सतेन्द्र को दवाई देकर घर भेज दिया। घर आने के कुछ देर बाद सतेन्द्र की हालत दोबारा बिगड़ गई। सतेन्द्र को लेकर उसके परिजन जब दोबारा अस्पताल गये तो वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सतेन्द्र के परिजनों का आरोप है कि डॉक्टरों द्वारा गलत दवाई देने और लापरवाही के कारण सतेन्द्र की मौत हुई है। गुस्साए परिजनों ने अस्पताल में शव रख जमकर हंगामा काटा और तोड़फोड़ की। हंगामें की सूचना पर थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच मामले को शांत कराने का प्रयास किया।

Related Articles

Back to top button
Close