आगरा

डीयू में पढ़ाई का सपना साकार करेगा सत्यमेव जयते ट्रस्ट

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा : दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश का सपना देखने वाले ताजनगरी के गरीब मेधावी छात्रों का फीस और छात्रावास का खर्चा सत्यमेव जयते ट्रस्ट उठाएगा। इसके लिए ट्रस्ट की ओर से शहर के गरीब मेधावी 400 विद्यार्थियों को डीयू में प्रवेश का फॉर्म भरवाया गया है। सोमवार को सत्यमेव जयते ट्रस्ट, संजय प्लेस पर आयोजित की गई पत्रकार वार्ता में यह जानकारी ट्रस्ट के अध्यक्ष मुकेश जैन ने दी। उन्होंने बताया कि संस्था ऐसे छात्रों का पूरा खर्चा वहन करेगी जो अपनी प्रतिभा के आधार पर डीयू में प्रवेश लेंगे। 12 अक्टूबर को डीयू की पहली कट ऑफ जारी हो चुकी है। अभी कई कट ऑफ लिस्ट और जारी होंगी। संस्था की ओर से बच्चों की काउंसलिंग लगातार चल रही है। ट्रस्ट के महामंत्री गौतम सेठ ने कहा कि ट्रस्ट की एक टीम का गठन किया गया है। प्रवेश लेने वाले इन विद्यार्थियों के परिवारों की स्थिति देखने के बाद ही उन बच्चों की फीस और छात्रावास का खर्चा उठाया जाएगा, जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर है। सेठ ने कहा कि उन बच्चों की भी संस्था सहायता करेगी जिन्होंने संस्था के बिना भी डीयू में प्रवेश के लिए फॉर्म भरे हैं। ट्रस्ट के पदाधिकारी रविन्द्र अग्रवाल ने बताया कि पिछले दो सालों से डीयू और उससे संबंद्ध विभिन्न संस्थानों में आगरा के 17 बच्चों की पढ़ाई का खर्चा सत्यमेव जयते ट्रस्ट उठा रहा है। अग्रवाल ने कहा कि हर महीने इन सभी बच्चों को लगभग डेढ़ से दो लाख रुपये का खर्चा संस्था वहन कर रही है। इनमें घरों में काम करने वाले, रंगाई पुताई करने वाले, घरों में जाकर सफाई करने वाले परिवारों के बच्चे शामिल हैं। इस अवसर पर एक पहल संस्था के सचिव मनीष राय, मीडिया प्रभारी नन्द किशोर गोयल, रवि बंसल, अंकित खंडेलवाल आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close