आगरा

प्रदेश बाबाओं के हाथ में होगा तो अपराध तो बढ़ेंगे ही : राकेश अग्रवाल

हाथरस की निर्भया से मिलने जा रहे सपाईयों को आलाधिकारियों ने रोका

3000
r 1000
WhatsApp Image 2020-12-31 at 6.53.15 PM
1000

 

आगरा : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन पर लखनऊ से 10 लोगो का डेलिगेशन ओर आगरा से समाजवादी व्यापार सभा के निवर्तमान महानगर अध्यक्ष राकेश अग्रवाल हाथरस में हुई घटना के मामले में पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे। इस कूच की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन ने सपाइयों को रास्ते में ही रोक दिया। आलाधिकारियों के साथ काफी नोकझोंक होने के पर सपाई पदाधिकारी बीच रास्ते में धरने बैठ गए और प्रशासन और योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। और प्रशासन को चकमा देकर दूसरे रास्ते से समाजवादी पार्टी का जो धरना बहन मनीषा बाल्मीकि के न्याय मांगने के लिए चल रहा था वहां पहुंच गए वहां से सभी लोगों की गिरफ्तारी कर ली गई उसके बाद पुलिस ने सभी को रिहा कर दिया। वहीं समाजवादी व्यापार सभा के निवर्तमान महानगर अध्यक्ष राकेश अग्रवाल ने सरकार पर तीखे आरोप लगाते हुये कहा प्रदेश बाबाओं के हाथ में होगा तो अपराध तो बढ़ेंगे ही यह प्रदेश आपके लायक नहीं है। जिस प्रकार प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ रहा हैं और कानून व्यवस्था भी बद से बदत्तर हो रही हैं। युवाओं को रोजगार ना हो जिसमें छात्राओं का उत्पीड़न हो रहा हो जिसमें किसानों का उत्पीड़न हो रहा है जिसमें व्यापारियों का उत्पीड़न हो रहा हो। ऐसे में योगी को प्रदेश का मुख्यमंत्री होने का कोई अधिकार नहीं है आप तत्काल ही अपना इस्तीफा दे। साथ ही कहा कि समाजवादी कभी किसी से नहीं डरते और हमेशा जेलों से ही संघर्ष करके जनता की आवाज बुलंद की है, और आगे भी करती रहेगी। अब अगर उत्तर प्रदेश के अंदर बढ़ते महिलाओ से अपराध, बेरोजगारी, भ्रष्टाचारी ,वैश्विक महामारी की स्वास्थ्य सेवाएं, किसान समस्या, व्यापारियों के साथ आये दिन लूट हत्याकांड अगर इस बहरी गूंगी सरकार ने समाधान नहीं किया समाजवादी पार्टी जनता की आवाज को बुलंद करने के लिये सड़को पर उतर अब आंदोलन करेगी। इस दौरान समाजवादी व्यापार सभा के महानगर अध्यक्ष राकेश अग्रवाल, महानगर उपाध्यक्ष देवेंद्र यादव, उपाध्यक्ष रूपेश राठौर, अनिल चौहान, राहुल माहौर, डीके यादव, गोविंद बर्मा, अनुज गुर्जर, हरीश, संतोष वघेल आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close