आगरा

एचआईवी उपचाराधीन गर्भवती महिलाओं को किया न्यूट्रिशन वितरण

ममता संस्था के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग ने वितरित की किट

liladhar pradhan 1000

 

आगरा : कोविड-19 का वायरस उनके लिये ज्यादा घातक है, जो पहले से बीमार हैं या उनकी प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है। इसी को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने एचआईवी उपचाराधीन गर्भवती महिलाओं व धात्री महिलाओं को संस्था के सहयोग से मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय और जिला क्षय रोग अधिकारी कार्यालय में न्यूट्रिशन किट व कोविड-19 से बचाव के लिये सेफ्टी किट वितरित की। एसीएमओ डा.यूके त्रिपाठी ने बताया कि एचआईवी उपचाराधीन गर्भवती महिलाओं व धात्री महिलाओं को सही पोषण मिल सके इसके लिये उन्हें ममता संस्था के सहयोग से न्यूट्रिशन किट उपलब्ध कराई गई हैं, ताकि सही पोषण से उनकी प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो और वे कोविड-19 के संक्रमण से बची रहें।

जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. यूबी सिंह ने बताया कि एचआईवी उपचाराधीन गर्भवती महिलाओं को न्यूट्रिशन किट के साथ-साथ कोविड-19  सेफ्टी किट का भी वितरण किया गया. इसमें मास्क, सेनेटाइजर, हैंडवॉश, कंडोम और सेनेटरी पैड वितरित किये गये। ममता संस्था की शिखा त्रिवेदी ने बताया कि वर्तमान जहां कोविड-19 के इस दौर में कई परिवारों ने अपनी आजीविका खो दी है, वहीं ममता संस्था एचआईवी पीड़ितों के लिये आगे आई है। अहाना परियोजना के तहत उन तक स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर दवा पहुंचाना, पोषण किट उपलब्ध कराने जैसे कार्य कर रहा है। पोषण किट में आटा, चावल, चीनी, तेल, चायपत्ती, माचिस, दाल, रिफाइंड वितरित किया गया। इसी के साथ सेफ्टी किट में फेस मास्क, कंडोम, सेनेटाइजर हैंडवॉश, सेनेटरी पैड वितरित किया गया।

इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी एसके गुप्ता, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी अमित कुमार, जिला मलेरिया अधिकारी आर0के0 दीक्षित, डीपीएम कुलदीप भारद्वाज, अशोक सिंह, जिला पीपीएम समन्वयक कमल सिंह, सीफार से राना बी, ममता संस्था की ओर से योगेंद्र पाठक, सनी कनौजिया उपस्थित रहीं।

Related Articles

Back to top button
Close