आगरा

जनता की आवाज को बुलंद करने के लिये सड़को पर उतरे सपाई

योगी सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन

liladhar pradhan 1000

 

आगरा : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशानुसार उत्तर प्रदेश के हर जिले की हर तहसील स्तर पर पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं द्वारा मौजूदा सरकार के खिलाफ कई मुद्दों पर 21 सितंबर को प्रदर्शन प्रस्तावित हुआ था। आगरा जिले का मुख्य प्रदर्शन सदर तहसील पर होना था। इसके लिए सपाइयों ने जिला प्रशासन से अनुमति मांगी थी। जिला प्रशासन ने रविवार को उनका आवेदन खारिज कर दिया। अनुमति खारिज होने के बाद भी सपा नेता प्रदर्शन की जिद पर अड़े रहें। मगर, इससे पहले ही कई वरिष्ठ नेताओं के निवास स्थल पर पुलिस ने सुबह से ही डेरा डाल दिया।

निर्मतमान महानगर अध्यक्ष व्यापार सभा राकेश अग्रवाल को उनके निवास पर छावनी बना कर रोका मगर नहीं रुके और अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ आगे बढ़ते गए शासन प्रशासन ने उन्हें आगे नहीं जाने दिया तो उन्होंने वहीं घर के बाहर बैठकर जन विरोधी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और आगे अपनी लडाई जारी रखने की भी बात रखी महानगर अध्यक्ष व्यापार सभा राकेश अग्रवाल ने कहा समाजवादी कभी किसी से नहीं डरते समाजवादी पार्टी ने हमेशा जेलों से ही संघर्ष करके जनता की आवाज बुलंद की है, और आगे भी करती रहेगी अब अगर उत्तर प्रदेश के अंदर बढ़ते महिलाओ से अपराध, बेरोजगारी, भ्रष्टाचारी ,वैश्विक महामारी की स्वास्थ्य सेवाएं, किसान समस्या,व्यापारियों के साथ आये दिन लूट हत्याकांड अगर इस बहरी गूंगी सरकार ने समाधान नहीं किया समाजवादी पार्टी जनता की आवाज को बुलंद करने के लिये सड़को पर उतर अब आंदोलन करेगी।

इस दौरान राकेश अग्रवाल निर्मल महानगर अध्यक्ष समाजवादी व्यापार सभा आगरा उपाध्यक्ष रूपेश राठौर, अनिल चौहान, गोविंद वर्मा, जीशान राईन, कासिफ़ मिर्जा, गौरव कुलश्रेष्ठ, डॉ मंगेश, चौधरी कमल सिंह, दीपू नंदा, राजकुमार, रवि सोनी, बंटी, अनुज गुर्जर, अजरो, नाजिम, सलमान उस्मानी, जयंत कुमार बाबा, बाली देव जाटव, नईम, राजा, अजय, राहुल माहौर, हरीश, संतोष वघेल, रवि राठौर, रेनिस ठाकुर, सुमित, सौरभ, अजय सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close