आगरा

एक्सप्रेस वे पर वाहनों की रफ्तार पर अंकुश लगाएगी यूपी पुलिस

liladhar pradhan 1000

मिशन इंडिया न्यूज ब्यूरो

आगरा : लखनऊ एक्सप्रेस वे पर हादसों को रोकने को अब पुलिस वाहनों की रफ्तार पर अंकुश लगाएगी। शनिवार को एडीजी ट्रैफिक अशोक कुमार सिंह ने सर्किट हाउस में पुलिस व अन्य संबंधित विभागों के साथ सड़क सुरक्षा को लेकर बैठक की। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि अब एक्सप्रेस वे पर ओवरस्पीडिंग करने वाले सभी वाहनों के चालान किए जाएं। इसमें देर न हो, इसके लिए प्रतिदिन एक पुलिस अधिकारी की ड्यूटी टोल प्लाजा पर लगाई जाएगी। वहीं से ओवरस्पीडिंग करने वाले वाहनों के चालान किए जाएंगे।

एडीजी ट्रैफिक अशोक कुमार सिंह ने कहा कि लखनऊ एक्सप्रेस वे पर ओवरस्पीडिंग के कारण अधिकतर हादसे होते हैं। इसलिए स्पीड को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी है। एक्सप्रेस के नीचे सर्विस लेन के पास ढाबे खुले हैं। यहां खाना खाने के लिए चालक ट्रकों को एक्सप्रेस वे पर ही खड़ा कर देते हैं। कई बार ये हादसों का कारण बन चुके हैं। उन्होंने एक्सप्रेस वे के आसपास के सभी ढाबों को बंद कराने के निर्देश दिए हैं। रात में एक्सप्रेस वे पर रफ्तार पर अंकुश और सुरक्षा की दृष्टि से वाहनों को कॉनवॉय के रूप में निकालने को भी उन्होंने कहा। लखनऊ एक्सप्रेस का 37 किमी क्षेत्र आगरा जनपद में आता है। इसमें सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम होने चाहिए। बैठक के बाद एडीजी ट्रैफिक ने स्मार्ट सिटी के कमांड एंड कंट्रोल सेंटर और पुलिस लाइन में निर्माणाधीन ट्रैफिक पुलिस कार्यालय का भी निरीक्षण किया।

एडीजी ट्रैफिक अशोक कुमार सिंह ने जिले के ब्लैक स्पॉट की भी समीक्षा की। जिले में 46 ऐसे स्थान हैं, जहां सबसे अधिक दुर्घटना होती हैं। इन्हें ही ब्लैक स्पॉट के रूप में चिह्नित किया गया है।  एडीजी ने अधिकारियों से पूछा कि यहां रोड इंजीनियरिंग में क्या सुधार किए गए हैं? जिससे हादसे रुकें। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कुछ स्थानों पर सुधार किए हैं। अभी काम चल रहा है। एडीजी ने इन स्थानों के ऑडिट को कमेटी बनाने के निर्देश दिए।

Related Articles

Back to top button
Close