मथुरा

लापरवाहीः बनने से पहले ही टूटने लगीं इंटलॉकिंग टाइल्स

ठेकेदार की अनियमितताओं से नाराज कैबिनेट मंत्री

liladhar pradhan 1000

मिशन इंडिया न्यूज़ संवाददाता- तोरन सिंह

नंदगांव :  कस्बे के प्रसिद्ध आसेश्वर महादेव मंदिर के एकमात्र मार्ग की इंटरलॉकिंग टाइल्स लगने से पहले ही टूटने लग गई हैं। कैबिनेट मंत्री प्रतिनिधि नरदेव चौधरी एवं स्थानीय लोगों ने ठेकेदार पर मनमानी और अनियमितताओं का आरोप लगाया है। प्रसिद्ध आसेश्वर महादेव मंदिर पर इस समय ब्रज तीर्थ विकास परिषद की ओर से कार्यदाई संस्था एमवीडीए द्वारा करीब ढाई करोड़ रुपये की लागत से विकास कार्य कराए जा रहे हैं। करीब 14 सौ मीटर के रास्ते में लगभग 50 लाख की लागत से इंटरलॉकिंग टाइल्स लगाई जा रही हैं। इन टाइल्स को लगाने में ठेकेदार द्वारा जमकर अनियमितताएं बरती जा रही हैं। मार्ग पूरा बनने से पहले ही टाइल्स धंस रही हैं। जगह जगह से टूट भी गई हैं। टाइल्स की गुणवत्ता बिल्कुल खराब है। जीएसपी भी ठीक नहीं है। यमुना रेटिंग में मिट्टी मिलाकर प्रयोग किया जा रहा है। ठेकेदार द्वारा अनियमितताओं की सूचना कैबिनेट मंत्री चौ. लक्ष्मीनारायण को दी गई। मंत्री के निर्देश पर प्रतिनिधि नरदेव चौधरी ने विकास कार्यों का निरीक्षण किया। इस दौरान नरदेव चौधरी ने बताया कि विकास कार्यों में जमकर अनियमितता बरती जा रही हैं। शीघ्र ही अधिकारियों को अवगत कराकर इसके खिलाफ कार्रवाई कराई जाएगी। किसान मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष दान बिहारी ने बताया कि मानकों के विपरीत विकास कार्य हो रहे हैं। ठेकेदार मनमानी पर उतारू है।

Related Articles

Back to top button
Close