आगरा

केवल शिक्षक में ही हैं देश में बदलाव लाने की क्षमता -विजेंद्र सिंह

छात्रों को मिलेगी निशुल्क ऑनलाइन शिक्षा, सम्पर्क के लिये नंबर जारी

liladhar pradhan 1000

 

आगरा-उत्तर प्रदेश में कोरोना काल के दौरान समाजसेवी, उद्योगपति, राजनैतिक दल, इस महामारी से जागरूक करने व जरूरत मदों की सहायता करने में अग्रणी भूमिका निभाने का काम कर रहे हैं। इन सभी लोगों का कहना था कि देश में महामारी के चलते लोग काम धंधे से घर में बैठ गये जिससे उनकी हालत तंग हो गई कुछ लोगों ने हालात खराब होने की बजह से आत्महत्या जैसे गंभीर कदम उठा लिये हालांकि प्रदेश सरकार भी प्रशासन के माध्यम से लगातार ऐसे लोगों के पास राहत सामग्री व सहायता पहुॅचाने का कार्य कर रही हैं। इसी क्रम जिले के शिक्षक भी शिक्षा को उच्चस्तर पर ले जाने के लिये भरकश प्रयास कर रहे है।

ऐसे ही एक शिक्षक शहीद नगर निवासी विजेंद्र सिंह ने सोशल मीडिया के माध्यम से गरीब व ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को निशुल्क ऑनलाइन पढ़ाने का निर्णय लिया। इस निर्णय के बाद शहर हो गांव हर कोई इनके निर्णय की सराहना करते नजर आ रहा हैं। इस मामले को लेकर हमारे संवाददाता ने शिक्षक विजेंद्र सिंह से फोन पर वार्ता की तो उन्होंन%0 बताया कि कोरोना काल के दौर में हर कोई नागरिक व समाजसेवी, उद्योगपति, सहित कई राजनैतिक दल देशहित में अग्रणी भूमिका निभा रहा हैं। लेकिन शिक्षा के क्षेत्र में किसी का भी कोई ध्यान नही हैं। जबकि शिक्षा ही देश को आगे ले जा सकती हैं। इस महामारी की बजह से देश व राज्य के सभी शिक्षण संस्थान बंद होने के कारण कुछ स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई करायी जा रही हैं। लेकिन शहर के कुछ स्कूलों ने ऑनलाइन पढ़ाई को भी रोजगार बना लिया और शिक्षकों को वेरोजगार बना दिया हैं। ऐसे में हमारे द्वारा संकल्प लिया गया हैं कि जिन बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा का लाभ नही मिल पा रहा उन छात्रों को निशुल्क ऑनलाइन शिक्षा देने का कार्य मैं और मेरी पत्नी करेगी। हालांकि ये प्रयास काफी समय से किया जा रहा हैं। जिसमें कई ग्रामीण क्षेत्रों के छात्र निशुल्क ऑनलाइन पढ़ाई का लाभ ले रहे हैं।

इस वार्ता में उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा कक्षा 6 से लेकर कक्षा 10 तक मैथ व सांइस तथा 11 व 12 के छात्रों को मैथ पढाने का कार्य किया जा रहा हैं। ऐसे में निशुल्क पढ़ने बाले छात्रों को अपना नाम व स्कूल का नाम तथा व्हाट्स एप्प नंबर देना होगा जिसके लिये शिक्षक विजेंद्र सिंह ने अपना व्हाट्स एप्प व कॉलिंग नंबर 9412163176 जारी किया हैं। निशुल्क शिक्षा का लाभ उठाने के लिये सभी छात्र लाभ ले सकते हैं। इसी के साथ उन्होने कहा कि माता-पिता व भगवान से बड़ा स्थान गुरू का माना जाता हैं। अगर गुरू ही इसका महत्व बदल दे तो देश का उद्वार कैसे हो सकता हैं। जबकि लोगों का मानना हैं कि शिक्षा से देश में बदलाव आ सकता हैं।

Related Articles

Back to top button
Close