आगरा

आरोप : बिजली काटे जाने पर हुई बीमार युवक की मौत

आक्रोशित लोगों ने टोरंट ऑफिस पर शव रखकर किया धरना

liladhar pradhan 1000

 

आगरा-बारह खंभा निवासी एक युवक की मौत होने पर परिवारीजन व क्षेत्रीय लोग मृतक युवक के शव को लेकर मलका चबूतरा स्थित टोरेंट ऑफिस पहुँच गए। भारी संख्या में पहुँचे आक्रोशित लोगों ने टोरंट ऑफिस के गेट पर मृतक का शव रख प्रदर्शन शुरू कर दिया। लोगों ने टोरंट के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और मृतक के टोरंट बिल माफी और लाइट जोड़ने व उचित मुआवजे की मांग की। प्रदर्शन की सूचना पर क्षेत्रीय पुलीस मौके पर पहुँच गयी और स्थिति को संभालने का प्रयास किया। लोगों का आरोप था कि टोरंट की संवेदनहीनता के चलते इस युवक की जान चली गई है। मामला बारह खंभा क्षेत्र का है। लोगों ने बताया कि मृतक जितेंद्र सिंह की लॉकडाउन में काम बंद हो गया जिससे परिवार की आर्थिक स्थिति खराब हो गयी और वो टोरंट के विद्युत बिल को जमा नहीं कर पाए और टोरंट ने उसका विद्युत कनेक्शन का काट दिया। मृतक के परिजन कई गंभीर बीमारियों से ग्रसित थे। पीड़ित परिवार ने बीमारियों की दुहाई देकर टोरंट अधिकारियों से कुछ दिनों के लिए बिजली जोड़ने की गुहार लगाई लेकिन कोई सुनवाई नही हुई और इस भीषण गर्मी म87ं खुजली व फुंसी से ग्रसित जितेंद्र की मौत हो गयी। लोगों का आरोप है कि टोरंट की संवेदनहीनता के कारण युवक की मौत हुई है। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँच गयी और टोरंट के पीआरओ भूपेंदर मौके पर पहुँच गए। पुलिस और टोरंट के अधिकारियों ने मामला संभालने का प्रवास किया लेकिन लोग मृतक के परिजनों को उचित मुआवजा और विद्युत बिल माफी की मांग करने लगे। वहीं टोरंट पीआरओ का कहना था कि विद्युत बिल बकाया होने पर ही कनेक्शन काटा गया होगा। लोगों का कहना था कि अभी बाल योगी ने कोर्ट में टोरंट के खिलाफ रिट दायर कर रखी है और उस रिट पर हाईकोर्ट ने फैसला न आने तक किसी भी तरह का कनेक्शन काटने के लिए मना किया है लेकिन फिर भी इन्होंने उस कनेक्शन को नही जोड़ा और गर्मी के कारण ही उस युवक की मौत हुई है। फिलहाल पुलिस के हस्तक्षेप के बाद भी पीड़ित की सुनवाई न होने पर पीड़ित परिवार शव को लेकर मोक्षधाम पहुँचे और जितेंद्र का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

Related Articles

Back to top button
Close