आगरा

पीड़ित अभिभावकों के साथ संस्था पापा ने किया बीएसए कार्यालय का घेराव

सेंट अगस्टीन के खिलाफ खोला मोर्चा, कराया अवैध वसूली का मुकदमा दर्ज

liladhar pradhan 1000

 

आगरा-पापा टीम सेंट अगस्टीन के पीड़ित अभिभावकों के साथ बेसिक शिक्षा अधिकारी के ऑफिस पहुँची, जहां महेश कुमार ने अपने पुत्र की टीसी पर आपत्तिजनक शब्द लिखने पर लिखित में शिकायत की, महेश कुमार ने बताया कि उसके बच्चे के हमेशा से 70 प्रतिशत 80 प्रतिशत नम्बर आते हैं टीसी में स्कूल ने दुर्भावनावश बच्चे को पढ़ाई में कमजोर बताने के साथ साथ बच्चे के माता पिता को भी झगड़ालू लिखा है। वहीं दूसरी अभिभावक राकेश तिवारी जी जो अधिवक्ता है उन्हें अभी तक टीसी प्रदान नही की गई है जबकि उनका बच्चा आठवीं पास कर चुका है, उनसे छह माह की फीस मांगी जा रही है, तिवारी ने सेंट अगस्टीन स्कूल के खि़लाफ़ अवैध वसूली का क्राइम संख्या 236/2020 सेक्शन 384/504/506 आईपीसी के तहत मुकद्दमा भी दर्ज कराया है। आज भी जानकारी में आया है कि स्कूल प्रबंधन ने फीस में राहत के लिये गयी दो महिलाओं को अपने स्कूल में बंद कर दिया, इंस्पेक्टर दिनेश कुमार के पास फोन आने पर वे स्कूल पहुँचे पर जब तक महिलाओं को निकाल दिया था। टीम पापा से रुचि राव जी का कहना है कि महिलाओं क%8 संग अभद्रता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही की जायेगी, दीपक वर्मा ने कहा कि एक स्कूल क्या आगरा के शिक्षा अधिकारियों से बड़ा है जो सब कुछ ताक पर रखकर अपनी मनमानी करने में लगा है, अरुण मिश्रा ने कहा कि सोमवार को बेसिक शिक्षा अधिकारी से पुनः आकर बात करी जायेगी और इस स्कूल की मान्यता समाप्त करने की कारवाई की माँग की जायेगी, अरुण भाटिया का कहना था कि आगरा जिलाधिकारी की चुप्पी समझ से परे हैं कहीं प्रशासन की इन स्कूल वालों के साथ मिली भगत तो नही ? इस दौरान मनोज गोयल, दीपक वर्मा, रुचि राव, महेश चंद, राकेश तिवारी, अरुण भाटिया अरुण मिश्रा, दीपक सरीन सहित टीम के पदाधिकारी व अभिभावकगण मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
Close