आगरा

गोकुलपुरा में चल रहा नकली पेट्रोल का कारखाने का पुलिस ने किया पदार्फाश

पुलिस ने किया 1200 लीटर नकली पेट्रोल के साथ आठ लोगों को गिरफ्तार

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

 

आगरा-थाना लोहामंडी गोकुलपुरा क्षेत्र में बीती रात को स्वॉट टीम ने नकली पेट्रोल का कारखाना पकड़ा है। कारखाना से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, यहां जूता बनाने में प्रयोग होने वाले साल्वेंट में रंग वाले केमिकल मिलाकर नकली पेट्रोल तैयार किया जा रहा था। मौके से 1200 लीटर सॉल्वेंट बरामद किया है। 36 रुपये की लागत से एक लीटर पेट्रोल तैयार कर देहात में उसे 52 रुपये लीटर में बेचा जाता था। देर रात पुलिस और जिला पूर्ति अधिकारी कार्रवाई में जुटे हैं। क्षेत्राधिकारी लोहामंडी रितेश कुमार सिंह ने बताया कि सिकंदरा क्षेत्र की एक केमिकल फैक्टरी से सॉल्वेंट खरीदा जाता है। साल्वेंट का प्रयोग जूता फैक्टरी के संचालक जूते के अपर और सोल को चिपकाने वाले केमिकल में करते हैं। सॉल्वेंट में रबड़ (पीएलएल) और एक केमिकल मिलाकर यह तैयार होता है। मगर, आरोपी साल्वेंट का प्रयोग नकली पेट्रोल बनाने में कर रहे थे।

गोकुलपुरा का वसीम इस काम में लगा था। वह साथियों की मदद से नकली पेट्रोल तैयार करता था। उसने गोकुलपुरा में कारखाना और गोदाम बना रखा था। यहां से गाड़ियों में ड्रमों में नकली पेट्रोल भरकर ले जाते थे। स्वाट टीम ने मंगलवार को गोकुलपुरा में छापा मारा। यहां से वसीम सहित तीन लोगों को पकड़ लिया। पुलिस की पूछताछ में वसीम ने बताया कि सॉल्वेंट में ऐसा रंग और केमिकल मिलाया जाता है, जिससे यह पेट्रोल जैसा दिखने लगता है। इसके बाद नकली पेट्रोल को देहात के कुछ लोगों को बेच देते हैं। यह पेट्रोल 52 रुपये तक में बिक जाता है। खरीदार लोगों को पेट्रोल की कीमत में बिक्री करते हैं। क्षेत्राधिकारी ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। आरोपियों ने कई लोगों के नाम लिए हैं। उनके बारे में पता किया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button
Close