आगरा

ताजनगरी में बढ़ता कोरोना संक्रमण बना चिंतनीय, कैसे होगा बचाव

liladhar pradhan 1000

 

आगरा-ताजनगरी में कोरोना वायरस संक्रमण का बढ़ना जारी है। सितंबर माह से लगातार वृद्धि बनी हुई है, मंगलवार को आए नए मामले अब तक का सर्वाधिक रिकॉर्ड बना गए हैं। दिन भर में 89 केस आए हैं, इससे पहले यहां का एक दिन का रिकॉर्ड 88 था। इसी के साथ आगरा में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 3549 पर पहुंच गई है। इससे पहले सोमवार को 83 केस रिपोर्ट हुए थे। आगरा में इस वायरस की चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 110 पर पहुंच गई है। एक्टिव केस बढ़कर 696 हो चुके हैं। संक्रमितों की संख्या बढ़ते ही एसएन मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विभाग में बना 100 बेड का नवनिर्मित आईसोलेशन सेंटर मंगलवार से मरीजों के लिए खुल गया।

डीएम ने बताया एसएन में आगरा के अलावा मथुरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, इटावा और बदायूं तक से मरीज आ रहे हैं। 100 से अधिक मरीज दोनों आइसोलेशन सेंटरों में भर्ती हैं। मंगलवार को बटेश्वर सीएचसी और मंदिर पर शिविर लगाकर जांच के लिए 201 नमूने लिए गए। वहीं बाह में हुई जांच में दो शिक्षक, एक स्वास्थ्यकर्मी समेत 7 लोग संक्रमित मिले हैं। जिनमें जरार की दो महिलाएं, बिजौली, जोधपुरा में एक-एक महिला शामिल हैं। सीएचसी अधीक्षक डॉ. जितेंद्र वर्मा ने बताया कि मंगलवार को कुल 302 नमूने लिए गए थे। बाह सीएचसी को सैनिटाइज कराया गया है। वहीं सोमवार को स्वास्थ्यकर्मी के संक्रमित मिलने पर बटेश्वर अस्पताल मंगलवार को बंद रहा। बढ़ता कोरोना संक्रमण ताजनगरी के लिये चिंता का बिषय बना हुआ हैं। हालांकि कोरोना से ठीक होने वालें मरीजों की संख्या 2,742 हो चुकी है। अब तक 1,37,059 लोगों की जांच हो चुकी है। ठीक होने वाले लोगों की दर घटकर 77.28 फीसद पर आ गई है। इधर प्रदेश सरकार द्वारा रविवार की बंदी भी खत्म कर दी है, यानि कि बाजारों में अब हर दिन भीड़ सड़कों पर रहेगी। अब बचाव स्वयं आपको करना है।

Related Articles

Back to top button
Close