मथुरा

अस्पतालों में अग्निकांड रोकने के लिए चिकित्सा कर्मियों को दिया प्रशिक्षण

जिला महिला अस्पताल में कर्मचारियों को समझायी आग से बचाव की तकनीक

add 22
add 21
add 20
add 2
add 1
add 14
add 13
add 12
add 15

मिशन इंडिया न्यूज़ संवाददाता-तोरन सिंह

मथुरा-जिला महिला चिकित्सालय में फायर ब्रिगेड के अधिकारियों ने प्रशिक्षण कैंप का आयोजन कर चिकित्सा कर्मियों को वह तकनीक समझाई जिसके माध्यम से आग लगने की घटनाओं को रोका जा सके। यदि आग लगे भी तो उसे तत्काल रोका जा सके। फायर ब्रिगेड मथुरा के अधिकारी प्रमोद कुमार शर्मा ने यह प्रशिक्षण प्रोजेक्टर के जरिए जिला महिला चिकित्सालय के कर्मियों को दिया। चिकित्सा कर्मियों को प्रोजेक्टर पर आग लगते हुए और उस पर काबू करते हुए सीन दिखाए गए। साथ ही बीच-बीच में समझाया गया कि आग पर कैसे कंट्रोल करें जिससे किसी मरीज को क्षति न पहुंचे। चिन्गारी निकलते ही आग पर कैसे काबू पा लिया जाए ? इस अवसर पर महिला चिकित्सा कर्मियों, नर्स,वार्ड बॉय व चिकित्सकों ने जिज्ञासा के साथ सवाल भी पूछे। उनका उत्तर जिला फायर ब्रिगेड अधिकारी प्रमोद शर्मा ने दिया। प्रशिक्षण के उपरांत प्रमोद कुमार शर्मा ने मुलाकात में बताया कि हाल ही में देश के दो-तीन कोविड-19 अस्पतालों में आग लगी है। मरीज भी आग में घर कर जान कमा चुके हैं। इन घटनाओं को देखते हुए ही अब चिकित्सा विभाग और फायर ब्रिगेड ने संयुक्त रूप से प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है। मथुरा के समस्त सरकारी चिकित्सालयों में फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों को वह तकनीक समझ आएगी जिसके जरिए आग लगे नहीं। आग लग भी जाए तो वह मरीजों को क्षति न पहुंचा सके। इसी प्रकार मथुरा जनपद के जो निजी चिकित्सालय या नर्सिंग होम हैं, वे अपने यहां प्रशिक्षण लेना चाहते हैं तो वे फायर ब्रिगेड से संपर्क करें,जिससे उनको प्रशिक्षित किया जा सके। प्रत्येक सरकारी या गैर सरकारी अस्पताल में फायर इंस्ट्रूमेंट चेक होंगे। जहां मरीज भर्ती रहते हैं उन वार्डो में बिजली का बोर्ड पूरी तरह सुरक्षित रखा जाएगा जिससे चिंगारी न निकल सके।

Related Articles

Back to top button
Close