अपराधउत्तर प्रदेश

आवास के नाम पर नटवरलाल ने लोगों से की सवा करोड़ की ठगी

फर्जी कागज तैयार कर 40 लोगों को आवंटित करा दिये आवास

liladhar pradhan 1000

मिशन इंडिया न्यूज़ क्राइम संवाददाता – जितेंद्र सिंह

आगरा-जिला नगरीय विकास अभिकरण की ताजनगरी योजना में मकानों के आवंटन के नाम पर नटवरलाल द्वारा की गयी ठगी एक करोड़़ रुपये से ज्यादा बतायी गयी है। आरोपित ने डूडा से मकान आवंटित कराने के नाम पर लोगों से तीन-तीन लाख रुपये लिए थे। उन्हें फर्जी आवंटन पत्र देकर कब्जा भी दिला दिया। धोखाधड़ी का पता चलने पर पीड़ितों ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार से शिकायत की। डूडा के परियोजना अधिकारी संजय कुमार ने अज्ञात के खिलाफ ताजगंज थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। विवेचना कर रही पुलिस को विभागीय कर्मचारियों की मिलीभगत की भी आशंका है।

थाना पुलिस इन बिंदुओं पर विवेचना कर रही लोगों के मोबाइल पर डूडा की ओर से वेरिफिकेशन कैसे आया। इसमें विभाग के ही किसी कर्मचारी की मिलीभगत तो नहीं थी ? आवंटन पत्र फर्जी थे तो लोगों को मकानों पर कब्जा करने के लिए चाबी किसने और क्यों दी ? इस धोखाधड़ी में किसी शोएब का नाम सामने आया है। वह पीड़ितों के सामने अपने मोबाइल पर डूडा के किस अधिकारी से बात करता था। शोएब की कॉल डिटेल,उसकी विभाग के किन लोगों से बातचीत हुई। इसका पता किया जा सके। आवासों के आवंटन की प्रक्रिया में ताजनगरी योजना में निर्बल आय वर्ग के 608 मकान हैं। इनके आवंटन की प्रक्रिया अक्टूबर 2016 से जारी है आवास आवंटन के लिए अभ्यर्थी द्वारा फार्म निर्धारित शुल्क के साथ जमा किया जाता है। जिलाधिकारी के निर्देशन में बनी कमेटी आवेदकों के सामने लॉटरी द्वारा आवंटन करती है। ताजनगरी में अब तक 492 मकान आवंटित किए जा चुके हैं।

Related Articles

Back to top button
Close