Breaking Newsअपराधखेलदेशब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराज्यव्यापारशिक्षा

सरकार का एक फैसला और एयरलाइन कंपनियों के शेयर में लौटी रौनक

liladhar pradhan 1000

कोरोना संकट काल में देश की एयरलाइन कंपनियों को सरकार ने बड़ी राहत दी है. इसका फायदा एयरलाइन कंपनियों के शेयर पर दिखा है.
कोरोना संक्रमण के कारण संकट से जूझ रही घरेलू विमानन कंपनियों के लिए अच्छी खबर है. दरअसल, सरकार ने एयरलाइन कंपनियों को 60 फीसदी घरेलू उड़ानें संचालित करने की अनुमति दे दी है. इससे पहले 26 जून को उन्हें 45 फीसदी उड़ानें संचालित करने की अनुमति दी गई थी. बता दें कि लॉकडाउन के कारण करीब 2 महीने तक देश में घरेलू उड़ानों पर प्रतिबंध रहा था, जिससे इस सेक्टर को अच्छा खासा नुकसान हुआ. बहरहाल, सरकार के फैसले का फायदा एयरलाइन कंपनियों के शेयर को मिला है.

इंडिगो के शेयर में 3 फीसदी बढ़त

इंडिगो एयरलाइन की पैरेंट कंपनी इंटरग्लोब के शेयर में करीब तीन फीसदी की तेजी रही और यह 1,275 रुपये के भाव पर रहा. वहीं, स्पाइसजेट का शेयर भाव भी करीब 3 फीसदी की बढ़त के साथ 52 रुपये के स्तर पर था. आपको बता दें कि बीते कुछ समय से एयरलाइन कंपनियों के शेयर में सुस्ती थी.

भोजन परोसने को मिल चुकी है इजाजत

हाल ही में केंद्र सरकार ने एयरलाइन कंपनियों को घरेलू उड़ानों में पहले से पैक स्नैक्स, भोजन और पेय पदार्थ देने की अनुमति दे दी है. इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में गर्म भोजन परोसने की इजाजत मिली है. खाद्य या पेय पदार्थों को परोसते समय केवल एक बार उपयोग में आने वाली ट्रे, प्लेट और कटलरी का उपयोग किए जाने का आदेश है.

वहीं स्टाफ को हर बार नए दस्ताने पहनने होंगे. यही नहीं, अगर कोई यात्री उड़ान के दौरान फेस मास्क पहनने से इन
अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 23 मार्च से ही बंद

बता दें कि देश में नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 23 मार्च से ही बंद हैं. हालांकि वंदे भारत मिशन के तहत मई से विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का संचालन किया जा रहा है. साथ ही द्विपक्षीय एयर बबल करार के तहत भी कुछ उड़ानें ऑपरेट की जा रही हैं.

Related Articles

Back to top button
Close