औरैया

जिला पंचायत अध्यक्ष पर उनके ही सदस्य ने लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

WhatsApp Image 2019-10-24 at 8.43.30 PM
WhatsApp Image 2019-10-24 at 8.29.44 PM (1)
WhatsApp Image 2019-10-24 at 8.29.44 PM
WhatsApp Image 2019-10-25 at 5.30.11 PM
WhatsApp Image 2019-10-25 at 5.30.10 PM
WhatsApp Image 2019-10-25 at 6.25.18 PM

मिशन इंडिया न्यूज़ संबाददाता

औरैया- जिला पंचायत औरैया के सदस्य डॉ शरद सिंह राणा ने अपने ही जिला पंचायत अध्यक्ष पर कई भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए मामले की जांच कराने की मुख्यमंत्री व जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर मांग की है। वहीं जिला पंचायत अध्यक्ष ने अपने ऊपर लगे उक्त आरोपों को निराधार बताया है। जिला पंचायत औरैया के सदस्य शरद सिंह राणा ने आज बिधूना के लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन में आयोजित प्रेस वार्ता में कहा है कि जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा कोई भी कार कानून सम्मत नहीं किए जा रहे हैं। विभिन्न शासनादेशो वह न्यायालय के निर्देशों का भी उल्लंघन किया जा रहा है उनकी तानाशाही एवं गलत नीतियों से जिला पंचायत को नुकसान हो रहा है।

जिला पंचायत सदस्य डॉ शरद सिंह राणा ने आरोप लगाते हुए कहा है कि मुरादगंज कस्बे की जिला पंचायत की भूमि मवेशी खाने के नाम से दर्ज है लेकिन उस पर दुकानों का निर्माण कराकर आवंटित किया जा चुका है वहीं उसके पीछे पड़ी भूमि पर भू माफियाओं को अवैध तरीके से प्लाट काट दिए गए हैं।उन्होंने आरोप लगाया है कि बिना पंचायत बोर्ड का प्रस्ताव पास कराए भू माफियाओं को लाभ पहुंचाने के लिए उक्त दुकानों को तोड़ दिया गया है ।उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि जिला पंचायत में कराए गए निर्माण कार्यों की एमबी होने के बाद भी ठेकेदारों का भुगतान कमीशन खोरी के चक्कर में लटका दिया जाता है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि अपर मुख्य अधिकारी के अधिकार क्षेत्र का भी अध्यक्ष द्वारा अतिक्रमण करके कर्मचारियों के स्थानांतरण आदेश स्वयं जारी कर दिए जाते हैं स्थानांतरण प्रक्रिया में भी अवैध धन उगाई हो रही है। उन्होंने कहा है कि उच्च न्यायालय इलाहाबाद में याचिका संख्या 173 54 बटा 18 में पारित आदेश की भी अवमानना अध्यक्ष द्वारा की जा रही है।

जिला पंचायत सदस्य डॉ राणा ने यह भी आरोप लगाया है कि दिव्यापुर के ग्रीन वैली स्कूल पर सिंचाई विभाग से बिना एनओसी प्राप्त किए बंबा पर पुलिया का अवैध निर्माण उक्त स्कूल के संचालकों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से किया गया है।गुरु बन के काजी हाउस का निर्माण जिला पंचायत अध्यक्ष के रिश्तेदार करा रहे हैं जबकि अभिलेख में उक्त कार्य किसी अन्य ठेकेदार के नाम पर चढ़ाया गया है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि ग्राम रौतिया पुर विकासखंड औरैया के पास हाईवे पर जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा खरीदी गई निजी भूमि पर अवैध प्लाट काटकर उन प्लाट के आसपास जिला पंचायत की निधि से सड़कों का निर्माण कराया गया जबकि अभी तक उस क्षेत्र में कोई आबादी नहीं है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि 14वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर शासन द्वारा 31 7 2015 को पारित शासनादेश के अनुसार जिला पंचायत द्वारा केवल मुख्य मार्ग से संपर्क मार्ग बनाए जाएंगे गांव के अंदर आबादी की सड़कों का निर्माण जिला पंचायत द्वारा नहीं किया जाएगा उक्त शासनादेश का उल्लंघन करके 5 करोड़ रुपए की निविदाएं गांव के अंदर की सड़क निर्माण हेतु निकाली गई जबकि जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा संबंधित जिला स्तरीय अधिकारियों पर अनुचित दबाव बनाते हुए केवल कुछ सड़कें ही गांव के अंदर बनाए जाने की निविदा निकालना दर्शाया गया जिन्हें मंडलायुक्त द्वारा निरस्त कर दिया गया वहीं विकासखंड औरैया के ग्राम सुरान पुरवा रहट जौरा बहादुरपुर चिचोली में 2 सड़कें उड़न पूरा एवं विकासखंड बिधूना के ग्राम टोडापुर में बनी कुछ सड़क के इसी प्रकार की अनियमितता से बनी है।
जिला पंचायत सदस्य ने यह भी आरोप लगाया है कि जिला पंचायत में किसी समिति की बैठक नहीं हुई है निर्माण समिति में भी कोई बैठक नहीं हुई है जो भी निर्माण कार्य कराए गए वे फर्जी तरीके से दर्शा कर संपादित कराए गए और बोर्ड को अंधेरे में रखा गया वह स्वयं निर्माण समिति के अध्यक्ष है फिर भी इस संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि अध्यक्ष द्वारा स्वयं का प्रचार एवं प्रसार करने के उद्देश्य फिजूल खर्चा करके बड़े-बड़े स्वागत द्वार बनवाए गए जिनका भुगतान जिला निधि से किया गया इसकी स्वीकृति भी अध्यक्ष द्वारा नहीं ली गई।

जिला पंचायत सदस्य डॉ राणा ने बताया है कि मुख्यमंत्री व जिलाधिकारी को उनके द्वारा जिला पंचायत अध्यक्ष के उक्त कृत्य की जांच कराने के लिए शिकायती पत्र दिए जा चुके हैं उन्हें उम्मीद है कि जल्द ही मामले की जांच कर कार्यवाही की जाएगी। जिला पंचायत सदस्य पुष्पेंद्र कठेरिया राजेंद्र सिंह भदोरिया एडवोकेट धर्मेंद्र सिंह सेंगर प्रधान भानु ठाकुर जैकी चौहान अवनीश ठाकुर आज प्रमुख नेता मौजूद थे।इस संबंध में पूछे जाने पर जिला पंचायत अध्यक्ष दीपू सिंह ने सभी आरोपों को निराधार बताते हुए कहा है मनमाने काम कराने के लिए कुछ लोगों द्वारा उन पर दबाव बना बनाने के लिए निराधार आरोप लगाए जा रहे हैं।