आगरा

इस्पेंक्टर की मूछों से प्रभावित हुये आगरा के कप्तान -मूछें रखने पर दिया 500 रुपये का भत्ता

1776b2aa-f544-44e5-bc5e-b7b511d78d7b

मिशन इंडिया न्यूज़ क्राइम संवाददाता – जितेंद्र सिंह

आगरा- मूछें हो तो नत्थू लाल जैसी यह डायलॉग अमिताभ बच्चन की फिल्म शराबी में फिल्माया गया था जो आज भी लोगों के जुबान पर रहता है। जब भी किसी की झबरीली और घनी मूंछों को कोई भी देखता है तो शायद उसे शराबी फिल्म का यह डायलॉग जरूर याद आता होगा और उसके मुंह से यह डायलॉग एक बार जरूर निकलता होगा। आगरा के पर्यटन थाने में तैनात जो अब राम बरात प्रभारी भी है, हरेंद्र पाल सिंह ने अपनी इन्हीं मूछों से अलग पहचान बनाई है। एसएसपी बबलू कुमार भी उनकी इन मूछों को देखकर प्रभावित हुए और दरोगा को बुलाकर तुरंत मूंछ भत्ता दिया। एसएसपी बबलू कुमार से मूंछ भत्ता पाकर राम बरात प्रभारी हरेंद्र पाल सिंह भी काफी उत्साहित नजर आए। बताया जाता है कि पुलिस महकमे में पहले मूछों के रखरखाव के लिए मूंछ भत्ता दिया जाता था। पुलिस लाइन में शुक्रवार को परेड होती थी और उसके बाद एसएसपी अधीनस्थों से रूबरू होते थे जिसकी मूंछे अच्छी लगती थी उसे मूंछ भत्ता दिया करते थे। पर्यटन थाना में तैनात हरेंद्र पाल सिंह को राम बरात का प्रभारी बनाया गया है। एसएसपी बबलू कुमार ने उनकी मूंछ देखकर कहा कि आज मुझे शराबी फिल्म का नत्थूलाल याद आ गया। एसएसपी ने तत्काल घंटी बजाई और स्टेनों को बुलाया और दरोगा को मूंछ भत्ता देने का आदेश दिए। एसएसपी बबलू कुमार ने मौके पर ही हरेंद्र पाल को पांच महीने का मूंछ भत्ते के रूप में ₹500 एडवांस दिए। इतना ही नही दरोगा को मूंछ भत्ता देते हुए फोटो पुलिस ग्रुप पर भी जारी की गई।