आगरा

सड़क पर बजरंगियों के हनुमान चालीसा पाठ करने पर दौड़ा पुलिस प्रशासन

WhatsApp Image 2019-12-04 at 4.54.11 PM

मिशन इंडिया न्यूज़ संवाददाता- अमन गुप्ता

आगरा- सावन का पवित्र माह का अंतिम सोमवार और दूसरी ओर मुस्लिम समाज का पाक दिन ईद- उल- जुहा। एक ही दिन पर हिन्दू-मुस्लिम पर्व होने के कारण कोई विवाद न हो इसके लिये पुलिस लगातार प्रयास करते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजामात कर रखे थे लेकिन इसके बावजूद खंदौली में तनाव पूर्ण स्थिति बन गयी।सड़क पर हो रही नमाज के कारण रोका गया ट्रैफिक हिंदूवादी संगठन को इतना नागवार गुजरा की बड़ी में संख्‍या में बस से उतर कर चौराहा पर ही हनुमान चालीसा का पाठ करने बैठ गए। गनीमत रही कि मौके पर पहुंचकर पुलिस ने स्थिति को संभाल लिया नही तो सांप्रदायिक तनाव की स्थित बन सकती थी।मामला सोमवार सुबह खंदौली क्षेत्र का है। यहां स्थित ईदगाह के बाहर सड़क पर लोग बकरीद की नमाज अदा कर रहे थे। नमाज के कारण एहतियात बरतते हुए प्रशासन ने यातायात को रोक रखा था। रोके गए यातायात में बजरंग दल के सदस्‍यों से भरी बस भी फंसी हुई थी। सभी बजरंगी अलीगढ़ और उसके आस पास के रहने वाले थे और अयोध्‍या से वापस लौट रहे थे।नमाज के बाद जब धीरे धीरे ट्रैफिक शुरु किया गया तो इस पर बस चालक पुलिसकर्मी से उलझ गए। देखते ही देखते दोनों में विवाद होने लगा। बजरंगियों को पता चला कि नमाज के कारण ट्रैफिक रोका गया था तो बजरंगियों में आक्रोश फैल गया। इतनी ही देर में कुछ बजरंगी बस उतरकर चौराहा पर हनुमान चालीसा का पाठ करने बैठ गए। सूचना मिलते ही मौके पर थाना एत्‍मादपुर के सीओ अतुल सोनकर अपने दलबल के साथ पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों ने काफी देरतक बजरंगियों की समझाया तब जाकर बजरंगी माने और चौराहा से उठकर अलीगढ़ के लिए रवाना हुए।गनीमत यह रही कि इस विवाद की भनक आगरा में हिंदूवादी संगठन को नही हुई नही तो विवाद और ज्यादा बढ़ सकता था। करीब आधा घंटे तक चले विवाद के कारण क्षेत्र में तनाव की स्थिति बन रही और बजरंगियों के रवाना होने के बाद पुलिसकर्मियों न राहत की सांस ली।