आगरा

आयुक्त की अध्यक्षता में मण्डलीय समीक्षा बैठक सम्पन्न -लापरवाह अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश

WhatsApp Image 2019-12-04 at 4.54.11 PM

मिशन इंडिया न्यूज़ संवाददाता-मुकेश चौहान

आगरा– आयुक्त अनिल कुमार की अध्यक्षता में आयुक्त सभागार में मुख्यमंत्री जी की महत्वाकांक्षी योजनाओं, विकास कार्यों एन0एच0आई0 से सम्बन्धित कार्यों तथा कर-करेत्तर एवं राजस्व की मण्डलीय समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। आयुक्त ने समाचार-पत्रों में प्रकाशित शीर्षक “लेडी लॉयल से गर्भवती को भगाया जिला अस्पताल परिसर में हुआ प्रसव“ का संज्ञान लेते हुए ए0डी0एम0 प्रशासन को इस सम्बन्ध में जांच करने तथा दोषी पाये जाने वाले सम्बन्धित अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही हेतु जिलाधिकारी आगरा को निर्देश दिये। उन्होंने स्वच्छता कार्यक्रम के अन्तर्गत ओ0डी0एफ0 की प्रगति की समीक्षा के दौरान उप निदेशक पंचायत को निर्देशित किया कि वे निगरानी समिति के द्वारा लोगों को प्रेरित करें कि वे शौचालय का उपयोग करें, बाहर शौच के लिये न जाय। उन्होंने नगर-निगम व ए0डी0ए0 के अधिकारी को निर्देशित किया कि शहर में विभिन्न स्थानों पर निर्मित कराये गये सार्वजनिक शौचालयों की जानकारी आमजन को हो सकें, इसके लिये साईनेज बोर्ड आदि के माध्यम से प्रचार कराया जाय।
आयुक्त ने नलकूपों व नहरों द्वारा सिंचाई में लक्ष्य के सापेक्ष कम प्रगति पाये जाने पर नाराजगी प्रकट करते हुए लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति सुनिश्चित करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिये। उन्होंने प्रतिबन्धित प्लास्टिक/पालिथीन पर अब तक मण्डल में की गई कार्यवाही की समीक्षा के दौरान मण्डल के जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि प्रतिबन्धित प्लास्टिक/पालिथीन पर सम्बन्धित विभागों द्वारा अपेक्षित कार्यवाही में लापरवाही पाये जाने पर उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाय। इसके साथ ही उन्होंने उप निदेशक, पंचायत को निर्देशित किया कि गॉवों में प्रतिबन्धित प्लास्टिक/पालिथीन पर कार्यवाही ग्राम प्रधानां व ग्राम सचिवों के माध्यम से सुनिश्चित करायें। उन्होंने जल-निगम व जलसंस्थान के अधिकारियों द्वारा कार्य में लापरवाही बतरने पर निर्देशित किया कि आगामी एक माह के अन्दर सभी कार्य पूर्ण करा लें, अन्यथा की स्थिति में सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने अधिशासी अभियन्ता प्रान्तीय खण्ड लो0नि0वि0 जी0एस0 वर्मा द्वारा एस0एन0 मेडिकल कॉलेज में पड़े मलवे को अब तक न हटवाये जाने पर नाराजगी प्रकट करते हुए उन्हें प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश दिये।

आयुक्त ने मण्डल के जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि आई0जी0आर0एस0 व सी0एम0 हेल्पलाइन पर प्राप्त शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण व समयबद्ध निस्तारण में लापरवाही बरतने वाले जनपद स्तरीय अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही करें। उन्होंने सी0एम0 हेल्पलाइन पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर उप आबकारी आयुक्त से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनके द्वारा आगामी एक माह बाद इस सम्बन्ध में समीक्षा की जायेगी, शिकायतों का निस्तारण लम्बित पाये जाने पर सम्बन्धित मण्डलीय अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि दी जायेगी। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी तहसील दिवस में सूचनाओं सहित पूरी तैयारी के साथ जायें। किसी भी प्रकार की कमी पाये जाने पर सम्बन्धित कनिष्ठ अधिकारी के वरिष्ठ अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

बैठक में आयुक्त ने निराश्रित गोवंश हेतु गो-आश्रय स्थल के निर्माण/संचालन प्रधानमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, अमृत योजना, प्रधानमंत्री किसान संम्मान निधि, संस्थागत प्रसव, आशाओं को भुगतान, आयुषमान भारत योजना, छात्रवृत्ति, पेंशन, शहरों की सफाई, कन्या सुमंगला योजना व ओ0डी0ओ0पी0 आदि योजनाओं की विस्तृत समीक्षा करते हुए लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। आयुक्त अनिल कुमार ने कर-करेत्तर एवं राजस्व की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारियों से कहा कि पुराने राजस्व वादों का निस्तारण शीघ्र कराया जाय तथा इसकी प्रत्येक माह समीक्षा की जाय। वादों के निस्तारण में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाय। उन्होंने कहा कि थाना दिवस पर नगर-निगम, विद्युत व प्राधिकरण का अधिकारी अवश्य उपस्थित रहें।आयुक्त ने वाणिज्य कर, आबकारी, परिवहन, नगर-निगम व विद्युत आदि विभागों के अधिकारियों को लक्ष्य के सापेक्ष राजस्व की वसूली में प्रगति करने के निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी आगरा एन0जी0 रवि कुमार, फिरोजाबाद, मथुरा सर्वज्ञ राम मिश्र, मैनपुरी प्रमोद कुमार उपाध्याय, मुख्य विकास अधिकारी आगरा जे0रीभा, फिरोजाबाद नेहा जैन, मथुरा राम निवास व मैनपुरी कपिल, नगर आयुक्त आगरा अरूण प्रकाश, मथुरा रविन्द्र कुमार मांदड़ व फिरोजाबाद विजय कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।