राज्य

UP में बारिश ने बरपाया कहर : अब तक 15 लोगों की मौत, 133 घर ढहे

WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.59.02 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 4.31.25 PM
9d1de659-68b7-46c8-a1b3-31e7b19e3e01
WhatsApp Image 2019-08-15 at 3.53.48 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.30.43 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 4.12.03 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.30.53 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.59.01 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.30.55 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 2.26.03 PM

मिशन इंडिया न्यूज़ संवाददाता

उत्तर प्रदेश – मानसून की दस्तक ने उत्तर प्रदेश में काफी कहर ढाया है। भारी बारिश से यहां काफी नुक्सान हुआ है। लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों के घर तक डूब गए हैं। खाने पीने की वस्तुओं के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। उत्तर प्रदेश के कई गांव तो पानी की चपेट में आ गए हैं। भारी बारिश से पिछले तीन दिनों में राज्य के 14 जिलों में करीब 15 लोगों की मौत हो गई। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार जुलाई 9 से 12 के बीच वर्षा जनित हादसों में करीब 133 इमारतें ढह गईं। वहीं करीब 23 जानवरों की भी इसमें जान चली गई।

इन जिलों में हुआ सबसे ज्यादा नुक्सान
मानूसन के आने के बाद से ही उत्तर प्रदेश के उन्नाव, अंबेडकर नगर, प्रयागराज, बाराबंकी, हरदोई, खीरी, गोरखपुर, कानपुर नगर, पीलीभीत, सोनभद्रा, चंदोली, फिरोजाबाद, मऊ और सुल्तानपुर में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। इन्हीं जिलों में लोगों ने अपनी जान भी गंवाई है। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दिनों में भी इन जिलों में तेज बारिश और तूफान आने की आशंका है।

लखनऊ में भी तेज बारिश की आशंका
वहीं मौसम विभाग ने कहा कि शनिवार और आने वाले पांच दिनों तक लखनऊ में भी तेज बारिश और तूफान आने की आशंका है। इस दौरान बादल छाए रहेंगे और आने वाले दो दिनों में दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में भी अच्छी बारिश होने का अनुमान जताया जा रहा है।

यहां होगी भारी बारिश 
मौसम विभाग के अनुसार उत्तराखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड, मध्य महाराष्ट, गोवा, कर्नाटक का तटीय क्षेत्र, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी शनिवार और रविवार को भारी बारिश की आशंका जताई गई है। बताया जा रहा है कि दक्षिणी और मध्य भारत में बन रही मानसून की स्थितियों को देखते हुए इन राज्यों में तेज बारिश के साथ ही तूफानी हवाएं भी चल सकती हैं।