आगरा

ट्विंकल शर्मा की हत्या को लेकर हिंदूवादियों आक्रोश -बजरंगदल के नेताओं ने भी फूंका पुतला

1776b2aa-f544-44e5-bc5e-b7b511d78d7b

मिशन इंडिया न्यूज़ क्राइम संवाददाता – जितेंद्र सिंह

आगरा -तमाम हिन्दू सगठनों ने आज जनपद में अपने अपने तरीके से विरोध जाहिर किया सर्वप्रथम कुछ हिंदूवादी नेताओ ने जिला मुख्यालय पर जिलाधिकारी को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। इस ज्ञापन के माध्यम से अबगत कराते हुये न्याय की मांग करते हुये आक्रोश जाहिर किया आपको जानकारी के लिए बता दे कि मथुरा में विगत रमजान के पाक महीने में एक रोजेदार द्वारा लस्सी पी,लस्सी के पैसे मांगने पर उसने दुकानदार की हत्या कर दी। इन घटनाओं के प्रति शासन प्रशासन ने यदि सख़्त कदम नहीं उठाए तो सामाजिक विषमता एवं विद्रोह की घटना कभी भी घटित हो सकती है। अलीगढ़ की घटना का जहां तक सवाल है वह निंदनीय ही नहीं अक्षम्य है।ट्विंकल शर्मा नाम की बच्ची का बलात्कार करने के साथ साथ उसके शरीर को क्षत विक्षत किया गया और निर्मम हत्या कर दी गई। इतनी क्रूरता उस छोटी सी बच्ची के साथ की गई।शरीर के अंदर छोटी बड़ी आंत नही, किडनी नही, आंख निकाल दी, यूरिनल ब्लैडर नही, बच्ची के हाथ पैर उसकी हत्या से पहले काटे गए ,ये पोस्टमार्टम की रिपोर्ट है।इतनी क्रूरता? इतनी नृशंसता एक ढाई साल की बच्ची के साथ? इन घटनाओं को देखते हुए हिन्दू समाज अब कोई समझौता नही करेगा।यह सब रमजान के महीने में हुआ है.और बोलते हैं कि ये रमजान के पाक महीने में अल्लाह से दुआ करते हैं कि अमन और चैन बढ़े। क्या ये यही अमन चैन अल्लाह से मांगते हैं?अतः महामहिम जी, आपसे अनुरोध है के दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए एवं हिंदुत्व के विरुद्ध चल रहे षड्यंत्र के विरुद्ध सरकार को सजग रहने का निर्देश दिए जाएं।

इसी के चलते राजपुर चुंगी स्थित १०० फुटा रोड पर बजरंग दल तथा गौरक्षा विभाग के पदाधिकारियों ने मासूम बच्ची ट्विंकल शर्मा के साथ क्रूरता करने वाले अपराधियों का पुतला दहन कर अपना आक्रोश जाहिर किया साथ ही शासन और प्रशासन से उस मासूम की हत्यारोपियों को फांसी की सजा की मांग की लेकिन आम जनता में गुस्सा फाँसी तक सीमित नहीं रहा ,लोगों ने दोषियों को जिंदा जलाने की माँग को लेकर पुतला फूंक कर प्रदर्शन किया । आरोपी मोहम्मद जाहिद और मोहम्मद असलम को जिंदा जलाए जाने की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए पुतला फूंका ।बजरंग दल के महानगर संयोजक बंटी ठाकुर का कहना था “हिंदू बच्चियों को निशाना बनाकर ऐसे अपराध किए जा रहे हैं इसकी गहनता से जाँच की जाए तो हिन्दुओ के खिलाफ हो रहे षड्यंत्र का पर्दा फास हो सकता है । आरोपियों को फाँसी की सजा नहीं अपितु ज़िंदा जलाया जाना चाहिए । इस प्रदर्शन में मुख्य रूप से पप्पू ठाकुर,लवकेश झा,तपेश,मोनू पंडित,छोटू पंडित,टिंकू,उपेन्द्र शर्मा, विजय भदौरिया,पवन,उदय,कुलदीप,जीतेन्द्र,केसरी,ऋषि जादोंन,सुभाष पचौरी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।