मध्य प्रदेश

प्रज्ञा ने रखी मोदी की लाज, दिग्विजय सिंह को साढ़े तीन लाख मतों से हराया

WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.59.02 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 4.31.25 PM
9d1de659-68b7-46c8-a1b3-31e7b19e3e01
WhatsApp Image 2019-08-15 at 3.53.48 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.30.43 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 4.12.03 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.30.53 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.59.01 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 8.30.55 PM
WhatsApp Image 2019-08-15 at 2.26.03 PM

मिशन इंडिया न्यूज़ संवाददाता

भोपाल– देश की हाईप्रोफाइल संसदीय सीट में शामिल भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को लगभग साढ़े तीन लाख मतों से शिकस्त देकर सीट पर पार्टी का कब्जा बरकरार रखा। भाजपा प्रत्याशी को लगभग आठ लाख तीस हजार वोट हासिल हुए हैं। वहीं श्री सिंह को चार लाख अस्सी हजार से अधिक मतों पर संतोष करना पड़ा। इस सीट पर पिछले तीस वर्षों से भाजपा विजय होती आयी है। वर्ष 2004 के चुनाव में यहां से भाजपा के आलोक संजर ने विजय पताका फहरायी थी। श्री सिंह की परंपरागत सीट राजगढ़ है, लेकिन केंद्रीय नेतृत्व और वरिष्ठ पार्टी नेताओं के आदेश पर उन्होंने भोपाल संसदीय सीट से चुनाव लड़ने की चुनौती स्वीकार की थी। वहीं भाजपा ने काफी मंथन के बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को अपना उम्मीदवार बनाया। श्री सिंह राज्य में वर्ष 1993 से 2003 तक मुख्यमंत्री भी रहे। उनका गृह नगर राघौगढ़, गुना जिले में आता है। हालाकि राघौगढ़, राजगढ़ संसदीय क्षेत्र के अधीन है।