राज्य

ग्राम पंचायतों में कार्य न होने पर, प्रधान और सचिव पर होगी कार्यवाही-डीएम

Screenshot_20190812-221012_YouTube
Screenshot_20190812-221025_YouTube

एटा – जनपद की तीनों तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। डीएम आई0पी0 पाण्डेय, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने संयुक्त रूप से तहसील अलीगंज में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में जनता द्वारा प्रस्तुत प्रार्थनापत्रों को गंभीरता से सुना गया। डीएम ने इस दौरान निर्देश दिए कि प्रदेश सरकार द्वारा जनता की शिकायतों के निस्तारण की गुणवत्ता की जांच की जा रही है, शिकायतकर्ताआें से फोन द्वारा भी सम्पर्क स्थापित किया जा रहा है। विभागीय अधिकारी जनता द्वारा सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्रस्तुत शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करें, इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाए। एसडीएम, सीओ अपने क्षेत्र में होने वाली रामलीला, दशहरे आदि को लेकर चिन्हित स्थलों का भ्रमण कर एक बार चैक कर लें, जिससे कि किसी भी प्रकार के विवाद की स्थिति उत्पन्न न हो। डीएम, एसएसपी ने इस दौरान रजनी देवी पत्नी स्व0 अशोक कुमार निवासी अकबरपुर अलीगंज को 2 लाख रूपये, सावित्री देवी पत्नी स्व0 राधेश्याम निवासी नगला विशुन अलीगंज एवं सुखदेवी पत्नी सुखवीर निवासी नगला नया अलीगंज को व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना के अन्तर्गत 2-2 लाख रूपये की सहायता राशि के चैक वितरित किए।डीएम आई0पी0 पाण्डेय ने एक फरियादी द्वारा ग्राम पंचायत खरसुलिया के ग्राम प्रधान द्वारा निर्माण कार्य में मानकों एवं गुणवत्ता की अनदेखी की शिकायत पर डीपीआरओ को निर्देश दिए कि ग्राम पंचायतों में गुणवत्तापूर्ण कार्य होने चाहिए। ग्राम पंचायतों में कराये जाने वाले निर्माण कार्यां में गुणवत्ता एवं मानकों की अनदेखी पाये जाने पर संबंधित ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। ओमेन्द्र निवासी जीवनाबाद द्वारा की गई शिकायत पर गांव में जाने वाले रास्ते पर अतिक्रमण को अतिशीघ्र हटवाने के निर्देश दिए। दिव्यांग प्रदीप कुमार द्वारा शिकायत की गई कि उसको मिलने वाली पैंशन को काट दिया गया है, इस पर डीएम ने दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी को निर्देश दिए कि सत्यापन कार्य पूर्ण पारदर्शिता के साथ होना चाहिए, कोई भी दिव्यांग पैंशन पाने से वंचित न रहे। ओडीएफ हेतु अलीगंज, जैथरा की प्रगति काफी खराब है, इसमे संबंधित कर्मचारियों द्वारा गंभीरता से कार्य करते हुए शीघ्र ओडीएफ कराने हेतु प्रयास किया जाए। सम्पूर्ण समाधान दिवस अलीगंज में फरियादियों द्वारा कुल 65 प्रार्थनापत्र निस्तारण हेतु प्रस्तुत किये गये, जिसमें 7 का मौके पर निस्तारण किया गया। इस अवसर पर एसएसपी आशीष तिवारी, सीडीओ उग्रसेन पाण्डेय, एसडीएम शिव सिंह, डीडीओ एसएन सिंह कुशवाह, पीडीडीआरडीए अजय कुमार पाण्डेय, डीआईओएस एनडी वर्मा, बीएसए संजय कुमार  शुक्ल, अधिशासी अभियंता जलनिगम एएस भाटी, डीपीओ सत्यप्रकाश पाण्डेय, डीपीआरओ एसके श्रीवास्तव, सीवीओ केपी सिंह, डीएओ एमपी सिंह, डीएसओ राजीव मिश्रा, अधिशासी अभियंता विद्युत सोपाली सिंह, तहसीलदार आरके त्यागी, क्षेत्राधिकारी अजय भदौरिया सहित अन्य अधिकारी आदि मौजूद थे।तहसील जलेसर में एडीएम वित्त एवं राजस्व महेश चन्द्र शर्मा, जॉइंट मजिस्ट्रेट प्रेरणा सिंह, तहसीलदार विजय कुमार छत्रपति सहित अन्य क्षेत्रीय अधिकारियों की मौजूद में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान कुल 81 प्रार्थनापत्र निस्तारण हेतु प्रस्तुत किये गये, जिसमें से 2 का मौके पर निस्तारण कर दिया गया।तहसील एटा सदर में एडीएम प्रशासन धर्मेन्द्र सिंह, एएसपी संजय कुमार, जॉइंट मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह तंवर, तहसीलदार दुर्गेश कुमार यादव, नायब तहसीलदार रवीन्द्र प्रताप सिंह सहित अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 64 िंशकायतें प्रस्तुत की गई जिसमें से 5 का निस्तारण कर दिया गया।